Doubtnut Promotions Sticky

900K पर एक मोल आदर्श गैस दो उत्क्रमणीय प्रक्रमों से गुजरती है, नीचे दर्शाए अनुसार प्रक्रम I के बाद प्रक्रम II सम्पन्न होता है। यदि दोनों प्रक्रमों में गैस द्वारा किये गये कार्य समान हैं, तो Inv3v2 का मान ___है।
900K पर एक मोल आदर्श गैस दो उत्क्रमणीय प्रक्रमों से गुजरती है, नीचे दर्शाए अनुसार प्रक्रम I के बाद प्रक्रम II  सम्पन्न होता है। यदि दोनों प्रक्रमों में गैस द्वारा किये गये कार्य समान हैं, तो In v3/v2  का मान है।        (U: आन्तरिक ऊर्जा, S: एन्ट्रॉपी, p: दाब, v: आयतन, R: गैस नियतांक)    (दिया है : नियत आयतन पर गैस की मोलर ऊष्मा धारिता, C(v. m)=5/2R है)
(U: आन्तरिक ऊर्जा, S: एन्ट्रॉपी, p: दाब, v: आयतन, R: गैस नियतांक)
(दिया है : नियत आयतन पर गैस की मोलर ऊष्मा धारिता, Cv.m=52R है)

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:10


प्रक्रम । रूद्धोष्म उत्क्रमणीय है
प्रक्रम II उत्क्रमणीय समतापीय प्रक्रम है
प्रक्रम I - (रूद्धोष्म उत्क्रमणीय)
ΔUR=4502250
ΔU=1800R
W1=ΔU=1800R
प्रक्रम ।।- (उत्क्रमणीय समतापीय प्रक्रम)
T1=900K
उत्क्रमणीय रूद्धोम प्रक्रम के बाद T2 की गणना
1800R=nCv(T2T1)
T2=180K
WII=nRT2ln(v3)v2=w1
1×R180lnv3v2=1800R
Inv3v2=10

Was this answer helpful?570
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions