Doubtnut Promotions Sticky

X2,Y2 और XY की बंध वियोजन ऊर्जाएँ क्रमश: 1:0.5:1 के अनुपात में हैं। XY के निर्माण के लिए ΔH,200kJmol1 है। X2 की बंध वियोजन ऊर्जा होगी

A

800kJmol1

B

100kJmol1

C

200kJmol1

D

400kJmol1

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


ΔfH(XY) के लिए अभिक्रिया
12X2(g)+12Y2(g)XY(g)
X2,Y2 और XY की बंध ऊर्जाएँ क्रमश:X<x2 और X हैं।
इसलिए ΔH=(x2+x4)X=200
हल करने पर, हमें x2+x4=200
X = 800 kJ/mole प्राप्त होता हैं।

Was this answer helpful?124
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions