Doubtnut Promotions Sticky

NH3 के विरचन की मानक एन्थैल्पी - 46.0 kJ/mol है। यदि H2 और N2 की बंध एन्थैल्पी क्रमशः - 436 kJ/mol और - 712 kJ/mol है, तब NH3 में N - H बंध की औसत बंध एन्थैल्पी क्या होगी?

A

964 kJ/mol

B

1102 kJ/mol

C

+1056 kJ/mol

D

+352 kJ/mol

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:D


अभिक्रिया के लिए
12N2+32H2(g)NH3(g),ΔNHf46KJmol1
ΔHf=46= ि
= ि+46
=12(712)+32(436)+46
=356+646+46=1056
N - H की औसत बंध एन्थैल्पी
=10563=352K J mol1

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    NO3 आयन में N-O बंधों की बंध कोटि क्या है?

    A1.33
    B1.50
    C1.00
    D0.33
  • Question 1 - Select One

    यदि Br2(l) के लिए कणन एन्थैल्पी x kJ/mol है और Br2 के लिए बंध एन्थैल्पी y kJ/mol है, तो उनके बीच संबंध है कि -

    Ax < y है।
    Bx>y है।
    Cअस्तित्व में नहीं है।
    Dx=7y है।
  • Question 1 - Select One

    NH4OH और CH3COOH के उदासीनीकरण की एन्थैल्पी -10.5 kcal mol1 है और प्रबल क्षार के साथ CH3COOH के उदासीनीकरण की एन्थैल्पी -12.5 kcal mol1 है। NH4OH के आयनन की एन्थैल्पी क्या होगी?

    A4.0 kcal mol1
    B3.0 kcal mol1
    C2.0 kcal mol1
    D3.2 kcal mol1
  • Question 1 - Select One

    Cl2,I2, और ICI के लिए बंध वियोजन ऊर्जाएँ क्रमश: 242.3, 151 और 211.3kJ/mol हैं। आयोडीन के ऊर्ध्वपातन की एन्थैल्पी 62.8 kJ/mol है। ICl (g) के निर्माण की मानक एन्थैल्पी क्या है?

    A211.3 kJ/mol
    B14.6 kJ/mol
    C16.8kJ/mol
    D33.5 kJ/mol
  • Question 1 - Select One

    प्रबल अम्ल और प्रबल क्षार के उदासीनीकरण की मानक एन्थैल्पी 57.3kJequiv1 है, यदि जलीय H2S के प्रथम प्रोटॉन के उदासीनीकरण की एन्थैल्पी 33.7kJmol1 है, तब H2S के लिए (pKa)1 है

    A(23.6×103TΔS2.303RT)
    B(2.303RT23.6TΔS)
    CTΔS23.6RT)
    D2.303(TΔS23.6RT)
  • Question 1 - Select One

    25C CO2(g),H2O(1) और ग्लूकोस(s) के निर्माण की मानक एन्थैल्पीयाँ क्रमश: 400RJ/mol,300kJ/mol 1300kJ/mol हैं। 25C पर ग्लूकोस के प्रति ग्राम दहन की मानक एन्थैल्पी है

    A+2900 kJ
    B-2900 kJ
    C-16.11 kJ
    D+ 16.11 kJ
  • Question 1 - Select One

    273 K पर 1 मोल बर्फ को द्रव में परिवर्तित किया जाता है। H2O(s) और H2O(I)की एन्ट्रॉपी क्रमशः 38.20और 60.03Jmol1 हैं। इस रूपांतरण में एन्थैल्पी परिवर्तन कितना होगा?

    A59.59 J/mol
    B5959.59 J/mol
    C595.959 J/mol
    D5.959 J/mol
  • Question 1 - Select One

    यदि किसी तत्व की आयनन एन्थैल्पी और इलेक्ट्रॉन लब्धि एन्थैल्पी क्रमश: 275 और 86kcal mol1 हैं, तब पॉलिंग मापनी पर तत्व की विद्युत् ऋणात्मकता है:

    A2.8
    B0
    C4
    D2.6
  • Question 1 - Select One

    यदि H - H, Br - Br और H - Br की बंध ऊर्जा क्रमशः 433, 192 और 364 kJ mol1 है, तो अभिक्रिया H2(g)+Br2(g)2HBr(g) के लिए ΔH का मान होगा :

    A261 kJ
    B+103 kJ
    C+261 kJ
    D103 kJ
  • Question 1 - Select One

    ईंधन सेल में मेथेनॉल का उपयोग ईंधन के रूप में किया जाता है और ऑक्सीजन गैस का उपयोग ऑक्सीकारक के रूप में किया जाता है। अभिक्रिया निम्न है :
    CH3OH(l)+32O2(g)CO2(g)+2H2O(l)298K पर CH3OH(l),H2O(l) और CO2(g) के निर्माण के ङ्केलिए मानक गिब्स सजाएँ क्रमशः 166.2,237.2 और 394.44kJmol1 हैं। यदि मेथेनॉल की मानक दहन एन्थैल्पी 726kJmol1 है, तो ईंधन सेल की दक्षता होगी?

    A87%
    B90%
    C97%
    D80%