Doubtnut Promotions Sticky

25°C पर CH4 और H2 के तुल्य द्रव्यमानों को एक खाली पात्र में मिलाया जाता है। H2 द्वारा लगाए गए कुल दाब का प्रभाज होगा|

A

1/2

B

8/9

C

1/9

D

16/17

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


माना कि CH4 और H2 प्रत्येक का द्रव्यमान 1 ग्राम है-
CH4=116, H2=12
PH2= मोल प्रभाज ×P
कुल मोल =116+112=1+816=916
H2 का मोल प्रभाज =H2 =1/29/16=89
pH2=89×P

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    समान परिस्थितियों में H2,O2 और मेथेन के समान द्रव्यमान को 27C पर आयतन V के एक पात्र में लिया गया है। H2:O2 : मेथेन गैसों के आयतन का अनुपात होगा:

    A16:8:2
    B8:1:2
    C16:1:2
    D8:16:1
  • Question 1 - Select One

    लगभग 2 घंटे के लिए एक द्रव को ऊष्मा रोधी पात्र में विलोड़ित किया जाता है। निम्नलिखित में से कौनसा सही है?

    Aw0,q=0,ΔU>0
    Bw<0,q=0,ΔU=0
    Cw>0,q>0,ΔU=0
    Dw<0,q<0,ΔU=0
  • Question 1 - Select One

    जब H2O2 को K2Cr2O7 के अम्लीय विलयन में मिलाया जाता है, तो:

    Aविलयन, Cr2O3 के निर्माण के कारण हरा हो जाता है
    Bविलयन, K2CrO4 के निर्माण के कारण पीला हो जाता है
    Cएक गहरे नीले-बैंगनी रंग के यौगिक CrO(O2)2 का निर्माण होता
    Dविलयन,Cr(OH)2 का हरा अवक्षेप देता है
  • Question 1 - Select One

    अमोनियम कार्बोनेट निम्न रूप से वियोजित होता है NH2COONH4(s)2NH3(g)+CO2(g) एक बंद पात्र में साम्य में अमोनियम कार्बोनेट में NH3 को मिलाया जाता है जिससे अब NH3 का आंशिक दाब, प्रारंभिक कुल दाब को बराबर हो जाता है। अब कुल दाब और प्रारंभिक दाब का अनुपात है?

    A2731
    B3127
    C49
    D319
  • Question 1 - Select One

    एक गैस को इस तरह गर्म किया जाता है कि उसका दाब और आयतन दोनों दोगुने हो जाते हैं। तब ताप में कमी करके वायु के कुछ अणुओं को पात्र में मिलाया जाता है ताकि दोगुने किये गए आयतन और दाब को बनाये रखा जा सके। माना कि प्रारंभिक मोलों की संख्या के 1वें भाग को इस उद्देश्य के लिए मिलाया गया है। तब प्रारंभिक परमताप के सापेक्ष परिणामी ताप का प्रभाज क्या होगा?

    A4 गुना
    B165 गुना
    C45 गुना
    D15 गुना
  • Question 1 - Select One

    H2 और I2 की समतुल्य मात्रा को एक संवृत पात्र में साम्यावस्था प्राप्त होने तक गर्म किया जाता है। यदि हाइड्रोजन का 80% , HI में परिवर्तित किया जा सकता है, तो इस ताप पर Kc है-

    A64
    B16
    C0.25
    D4
  • Question 1 - Select One

    एक विलयन डाइब्रोमो एथेन (C2H4Br2) और डाइब्रोमो प्रोपेन के 2: 1 मोल अनुपात में तैयार किया जाता है, आदर्श व्यवहार मानते हुए विलयन पर कुल वाष्प दाब क्या है?
    ocr_image

    A300 mm Hg
    B158 mm Hg
    C150 mm Hg
    D142 mm Hg
  • Question 1 - Select One

    एक तापन कुंडली को 1 atm और 100C पर 100 ग्राम H2O(l) के नमूने में एक बंद पात्र में डुबोया जाता है। इस तापन प्रक्रम में, द्रव के 60% को 1 atm के स्थिर दाब पर गैसीय रूप में परिवर्तित किया जाता है। इन परिस्थितियों में द्रव और गैसीय जल के घनत्व क्रमश: 1000kg/m3 और 0.60kg/m3 हैं। प्रक्रम के लिए किए गए कार्य का परिमाण है : (1atm=105N/m2 लीजिए)

    A4997 J
    B4970 J
    C9994 J
    D1060 J
  • Question 1 - Select One

    1000 K पर यदि H2S के 1 मोल को 1.1 लीटर के पात्र में डाला जाता है तो H2S का कितना प्रतिशत विघटित होता है?
    अभिक्रिया 2H2S(g)2H2(g)+S2(g) , के लिए KC=1×106 है।

    A1.3%
    B0.13%
    C13%
    Dइनमें से कोई नहीं
  • Question 1 - Select One

    जब तनु H2SO4 और H2O2 को क्रोमेट आयनों के विलयन में मिलाया जाता है तो एक गहन नीले रंग का उत्पादन होता है जो ईथर में स्थायी होता हैं यह किसके विरचन के कारण होता है?

    ACr2O27
    BCr2O3
    CCrO5
    DCrO3