Doubtnut Promotions Sticky

27C पर शुद्ध द्रव A का वाष्प दाब 70 टॉर हैं यह एक और द्रव B के साथ एक आदर्श विलयन बनाता है । B का मोल प्रभाज 0.2 है और 27C पर विलयन का कुल वाष्प दाब 84 टॉर है। 27C पर शुद्ध द्रव B का वाष्प दाब क्या होगा?

A

140 टॉर

B

56 टॉर

C

14 टॉर

D

70 टॉर

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:A


राउल्ट के नियम के अनुसार
p=pA.XA+pB.XB
यहां
pA=70 टॉर XA=1XB=10.2
=0.8,p= टॉर XB=0.2
और pB=?
तो 84 टॉर =70 टॉर ×0.8+PB×0.2
या pB=84 -56 0.2=140टॉर

Was this answer helpful?666
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions