Doubtnut Promotions Sticky

1 मोल वाष्पशील घटक a(PA=100hg) और 3 मोल वाष्पशील घटक B(PB=60mmHg) के मिसराड़ का कुल वसप दाब 75Hg है। ऐसी स्थिति के लिए-

A

राउल्ट के नियम से धनात्मक विचलन होता है।

B

क्वथनांक कम हो जाता है।

C

A और B के बीच आकर्षण बल A और A या B और B के बीच के आकर्षण बल से कम होता है।

D

उपरोक्त सभी कथन सही हैं।

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:D


PT=PAXA+PBXB
PT=14×100+34×60=2804=70
(राउल्ट के नियम अनुसार)

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Similar Practice Problems

  • Question 1 - Select One

    1 मोल A(PoA= 150 टॉर) और 2 मोल B(PoB= 240 टॉर) के मिश्रण का कुल वाष्प दाब 200 टॉर है। इस स्थिति में :

    Aराउल्ट के नियम के साथ धनात्मक विचलन दर्शाता है
    Bराउल्ट के नियम के साथ ऋणात्मक विचलन दर्शाता है
    Cराउल्ट के नियम के साथ कोई विचलन नहीं दर्शाता है
    Dविचलन की गणना के लिए A और B के आण्विक द्रव्यमान की भी आवश्यकता होती है
  • Question 1 - Select One

    35C ताप पर, CS2 का वाष्प दाब 512mmHg है और एसीटोन का वाष्प दाब 344 mm Hg है। एसीटोन में CS2 के एक विलयन का कुल वाष्प दाब 600mmHg है। निम्नलिखित में से असत्य कथन है:

    A100mLCS2 100mL एसीटोन के मिश्रण का आयतन 200mL से कम होता है।
    Bइस निकाय द्वारा राउल्ट नियम का पालन नहीं किया जाता है।
    C35C पर विलयन का उत्पादन करने के लिए ऊष्मा अवशोषित होगी।
    DCS2 और एसीटोन स्वयं की अपेक्षा एक-दूसरे से कम आकर्षित होते
  • Question 1 - Select One

    एक आदर्श विलयन में दो वाष्पशील द्रव A(p=100 ) B(p=200 टॉर) हैं। यदि मिश्रण में A के 1 मोल और B के 4 मोल होते हैं, तो आसुत का कुल वाष्प दाब है:

    A150 टॉर
    B180 टॉर
    C188.88 टॉर
    D198.88 टॉर
  • Question 1 - Select One

    वाष्पशील घटक A और B के मिश्रण का कुल वाष्प दाब (टॉर में) P=254119XA है।
    जहां मिश्रण में, A का मोल प्रभाज XA है। इसलिए, P0A और P0B (टॉर में) हैं:

    A254, 199
    B119, 254
    C135, 254
    D119, 373
  • Question 1 - Select One

    270C पर एज़ोआइसोप्रोपेन के अपघटन के लिए, यह पाया गया कि t = 0 पर, कुल दाब 33.15 mm Hg था और 3 मिनट के बाद कुल दाब, 46.3 mm Hg पाया गया। निम्न अभिक्रिया के लिए K के मान की गणना कीजिए। (CH3)2CHN=NCH(CH2)2N2+C6H14

    A0.1681min
    B0.1731min
    C0.181min
    D0.1541min
  • Question 1 - Select One

    वाष्पशील घटकों A और B के मिश्रण का कुल वाष्प दाब (torr में) है P=254119XA जहाँ, XA मिश्रण में A का मोल प्रभाज है। अतः, PA और PB (torr में) हैं:

    A254, 119
    B119, 254
    C135, 254
    D154, 119
  • Question 1 - Select One

    352C पर, CS2 का वाष्प दाब 512 mm Hg है और ऐसीटोन CH3COCH3 का वाष्पदाब 344 mm Hg है। CS2 और ऐसीटोन के एक विलयन में, जिसमें CS2 का मोल प्रभाज 0.25 है, का कुल वाष्प दाब 600 mm Hg है। ऐसीटोन - CS2 के विलयन के बारे में निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

    A100 ml एसीटोन और 100 ml CS2के मिश्रण का कुल आयतन 200 ml है।
    Bजब ऐसीटोन और CS2 को 35C पर मिश्रित किया जाता है, तो 35C पर विलयन का उत्पादन करने के लिए ऊष्मा अवशोषित की जानी चाहिए।
    Cजब ऐसीटोन और CS2 को 35C पर मिश्रित किया जाता है, तो ऊष्मा मुक्त होती है।
    Dविलयन के लिए CS2 और एसीटोन दोनों द्वारा राउल्ट के नियम का पालन किया जाता है, जिसमें CS2 का मोल प्रभाज 0.25 है।
  • Question 1 - Select One

    यदि X1 और X2 क्रमशः एक घटक A के वाष्प प्रावस्था और द्रव मिश्रण में मोल प्रभाज को निरुपित करते हैं और PA और pB शुद्ध A और B के वाष्प दाब को निरुपित करते हैं, तब द्रव मिश्रण का कुल वाष्प दाब है:

    APAX1x2
    BPAx2x1
    CPBx1x2
    DPBx2x2
  • Question 1 - Select One

    दो पूर्णतया मिश्रणीय वाष्पशील द्रवों के मिश्रण में A और B का वाष्प दाब क्रमश:
    PA=500 torr और PB=800 torr है, वाष्प के साथ साम्य पर शेष द्रव की अंतिम बूंद का संघटन क्या है?
    दिया गया है- प्रारंभिक आदर्श विलयन का संघटन XA=0.6 और XB=0.4

    AXA=0.6,XB=0.4
    BXA=0.5,XB=0.5
    CXA=0.7,XB=0.3
    DXA=0.3,XB=0.7
  • Question 1 - Select One

    A2 के 10 मोल, B2 के 15 मोल और AB के 5 मोल को 2 लीटर के पात्र में रखा जाता है और साम्यावस्था में आने दिया जाता है। AB की अंतिम सांद्रता 10.5 M है,
    A2(g)+B2(g)2AB(g)
    अभिक्रिया के लिए साम्य स्थिरांक (KC) का मान निर्धारित कीजिए।

    A25.3
    B31.5
    C36.3
    D40.5