Doubtnut Promotions Sticky

निम्नलिखित में से कौन सा सही नहीं है?

A

जल में CO2 की सांद्रता बढ़ाकर लोहे का जंग लगना रोका जा सकता है

B

लोहे में जंग लगना विद्युत रासायनिक प्रकृति का होता है

C

लोहे में जंग आर्द्र वायु में लगता है

D

लोहे का जंग, जलयोजित आयरन (III) ऑक्साइड उत्पन्न करता है

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:A


लोहे में जंग लगना एक वैद्युत रासायनिक परिघटना है, जिसमें लोहे का एक स्थान ऐनोड के रूप में कार्य करता है।
Fe(s)Fe2+(aq)+2e
ये इलेक्ट्रॉन धातु के माध्यम से गति करते हैं और जल में CO2(g) के घुलने से निर्मित H2CO3 द्वारा मुक्त किए गए H+ की उपस्थिति में पहले से ही जल में घुली हुई ऑक्सीजन द्वारा ग्रहण किए जाते हैं। H+ की सांद्रता जल में CO2 की सांद्रता पर निर्भर करती है।
कैथोड पर,
O2(aq)+4H++4e2H2O(1)
क्योंकि H+ की सांद्रता में वृद्धि के परिणामस्वरूप अभिक्रिया की दर में वृद्धि होती है, इसलिए, लोहे में जंग तीव्रता से लगता है, जब जल में CO2 की सांद्रता बढ़ जाती है। इसमें प्राप्त Fe2+ वायुमंडलीय ऑक्सीजन द्वारा पुन: Fe2O3 में ऑक्सीकृत हो जाता है। तब Fe2O3 जलयोजन पर जंग का निर्माण करता है।
Fe(2)O3+xH2OFe2O3.xH2O

Was this answer helpful?578
Doubtnut Promotions Banner