Doubtnut Promotions Sticky

निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही नहीं है?

A

मेथेनॉल में बंध कोण ocr_image 108.9 है।

B

ऐल्कोहॉल, जल की तुलना में दुर्बल अम्ल होते हैं।

C

मेथेनॉल, CH3OH में कार्बन-ऑक्सीजन बंध की लंबाई, फीनॉल में C - O बंध की लंबाई से छोटी होती है।

D

ऐल्कोहॉलों के अम्ल सामर्थ्य निम्नलिखित क्रम में घटते है :
RCH2OH>R2CHOH>R3COH

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C


मेथेनॉल, CH3OH में कार्बन-ऑक्सीजन बंध की लंबाई, फीनॉल में C - O बंध की लंबाई से अधिक होती है। यह अनुनाद के कारण फीनॉल के C - O बंध में आंशिक द्वि बंध के गुण के कारण होता है।
ocr_image

Was this answer helpful?456
Doubtnut Promotions Banner