Doubtnut Promotions Sticky

क्लोरीन मोनोऑक्साइड मूलक का क्लोरीन सिरा +0.167e का आवेश वहन करता है। बंध की लम्बाई 154.6 pm है। डिबाई मात्रक में मूलक के द्विध्रुव आघूर्ण की गणना कीजिए।

A

2.35D

B

1.24D

C

1.59D

D

2.05D

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


¯¯μ=e.d
e=1.167e(1.602×1019C1e)
=2.675×1020C
d=154.6pm=154.6×1012m
इसलिए
¯¯μ=(2.675×1020C)(154.6×1012)
=4.136×1030cm
=4.136×10303.34×1030=1.24D

Was this answer helpful?568
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions