Doubtnut Promotions Sticky

उच्च प्राथमिक स्तर पर हिन्दी भाषा की पाठ्य-पुस्तकों में अन्यय विषयों के पाठों को स्थान देने का एक महत्त्वपूर्ण उद्देश्य है

A

दूसरे विषयों का ज्ञान देना।

B

विषय की शब्दावली का विकास।

C

अन्य विषयों का कार्यभार कम करना।

D

हिन्दी की पाठ्य-पुस्तक को समावेशी बनाना।

Video Solution
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:D


उच्च प्राथमिक स्तर पर हिन्दी भाषा की पाठ्य-पुस्तकों में अन्य विषयों के पाठों को स्थान देने का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य हिन्दी की पाठ्य-पुस्तक को समावेशी बनाना है। अतः विकल्प (4) सही उत्तर है।

|
Updated on:21/07/2023

Similar Questions


Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    प्राथमिक स्तर पर भाषा की पाठ्य-पुस्तकों में किस तरह की रचनाओं को स्थान दिया जाना चाहिए?

    Aकेवल कहानियाँ अथवा कविताएँ।
    Bविदेशी साहित्य की रचनाएँ।
    Cऐसी रचनाएँ जो बच्चों के परिवेश से जुड़ी हों और जिनमें भाषा की अलग-अलग छटाएँ हों।
    Dजो प्रत्यक्ष रूप मूल्यों पर आधारित हों।
  • Question 2 - Select One

    उच्च प्राथमिक स्तर पर हिन्दी भाषा-शिक्षण का उद्देश्य नहीं है

    Aविभिन्न साहित्यिक विधाओं और ज्ञान से सम्बन्धित अन्य विषयो की समझ का विकास करना
    Bसरसरी तौर पर किसी पाठ को देखकर उसकी विषय-वस्तु का पता करना
    Cनिजी अनुभवों के आधार पर भाषा का सृजनशील इस्तेमाल करना
    Dभाषा की बारीकी और सौन्दर्यबोध के लिए हिन्दी भाषा का व्याकरण कण्ठस्थ करना
  • Question 3 - Select One

    उच्च प्राथमिक स्तर पर हिन्दी भाषा सीखने में सबसे कम सहायक है

    Aअन्य विषयो की कक्षाओं में भाषा पर ध्यान देना
    Bसमृद्ध-पुस्तकों को प्रयोग
    Cपाठ्य-पुस्तकों का प्रयोग
    Dसंचार-माध्यमों का प्रयोग