Doubtnut Promotions Sticky

हाइड्रोजन परमाणु का एक इलेक्ट्रॉन ऊर्जा-स्तर n=5 से ऊर्जा-स्तर n=2 पर कूदता है। इस प्रक्रिया में उत्सर्जित विकिरण की कम्पनावृत और तरंग-दैधर्य की गणना करे।

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

ΔE=2π2me4h2[1n211n22]
प्रश्नानुसार n1=2 और n2=5
ΔE=2179×1018[122152]=4.576×1019J
अब, विकिरण की कम्पनावृत, v=ΔEh
=4.576×1019J6.62×1034Js
=6912×1015s1
=6.912×1014s1
विकिरण का तरंग-दैधर्य, λ=cv=3×108ms16.912×1014s1
0.434×106m=4.34×107m.

Was this answer helpful?944
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions