Getting Image
Please Wait...
Login
Register now for special offers
+91

Home

>

English

>

Class 12

>

Chemistry

>

Chapter

>

Neet Test-35

>

कृत्रिम मधुरकों के उपयोग के सं...

Text Solution

सुक्रोस ग्रहण की गयी कैलोरी की मात्रा को बढ़ाता है और इसलिए, बहुत से लोग कृत्रिम मधुरकों का उपयोग करना पसंद करते हैं। ऑर्थो-सल्फ़ोबेंज़िमाइड, जिसे सैकरीन भी कहा जाता है, पहला प्रचलित कृत्रिम मधुरक है।सैकरीन, इक्षु शर्करा से लगभग 550 गुना मीठा होता है। उपरोक्त सभी

Answer : D
Solution : कृत्रिम मधुरकों का उपयोग ग्रहण की गयी कैलोरी की मात्रा को कम करने के लिए किया जाता है, और सैकरीन (ऑर्थो-सल्फ़ोबेंज़िमाइड) पहला कृत्रिम मधुरक है जो सूक्रोस की तुलना में 550 गुना अधिक मीठा होता है।

Loading Books
Comments

Add a public comment...