Doubtnut Promotions Sticky

m द्रव्यमान का एक पिंड एक नियत वेग v से गतिशील है | पिंड पर कितना कार्य करना चाहिए कि यह विराम अवस्था में आ जाए ?

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

यदि m द्रव्यमान का पिंड v वेग से गतिशील हो, तो उसकी गतिज ऊर्जा Ek=12mv2.
जब, यह पिंड विराम अवस्था में आ जायगा तब उसकी गतिज ऊर्जा E'k=0.
अत: , पिंड पर किया गया कार्य = गतिज ऊर्जा में परिवर्तन
=E'kEk=012mv2
=12mv2.
अत: , यदि पिंड पर 12mv2 का (ऋणात्मक) कार्य किया जाए, तो वह विराम अवस्था में आ जायगा |

Was this answer helpful?46
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions