Doubtnut Promotions Sticky

कबीरदास ने दुनिया के द्वारा ईश्वर को न देख पाने का क्या कारण कहा है ?

Text Solution
Verified by Experts

कबीरदास ने दुनिया के द्वारा ईश्वर को न देख पाने का कारण अज्ञानता कहा है। नाभि में स्थित कस्तूरी की सुगन्ध से भ्रमित मृग के समान लोग ईश्वर को अन्तर्मन में न ढूँढकर बाहरी जगत में खोजते हैं।

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Similar Practice Problems

  • Question 1 - Select One

    दुनिया के द्वारा ईश्वर को न देख पाने का क्या कारण है ?

    Aदूरी अधिक होना
    Bईश्वर का न होना
    Cसांसारिक सुखों में लीन होना
    Dचश्मा न होना
  • Question 1 - Select One

    रसीला ने रमजान को अपनी उदासी का क्या कारण बताया?

    Aरसीला अपनी परेशानी छिपाता रहा
    Bबच्चे बीमार हैं और रुपया नहीं है
    Cमालिक ने पेशगी देने से इंकार कर दिया
    Dमालिक ने रसीला से नौकरी छोड़ने को कहा
  • Question 1 - Select One

    ऐलुमिनियम द्वारा ऑक्साइड के अपचयन को क्या कहा जाता है?

    Aबीयर प्रक्रम
    Bगोल्डश्मिट एलुमिनोथर्माइट प्रक्रम
    Cहॉल प्रक्रम
    Dवैन आर्केल प्रक्रम
  • Question 1 - Select One

    कवयित्री ने वर्तमान दौर को क्या कहा है?

    Aअविश्वास भरा
    Bअंधानुकरण भरा
    Cअंधविश्वास भरा
    Dफैशन भरा
  • Question 1 - Select One

    इस गीत में धरती को क्या कहा गया है ?

    Aमाता
    Bदुल्हन
    Cपत्नी
    Dजननी
  • Question 1 - Select One

    कबीर को वाणी का डिक्टेटर किसने कहा है?

    Aरामचन्द्र शुक्ल
    Bमहावीरप्रसाद द्विवेदी,
    Cहजारीप्रसाद द्विवेदी,
    Dडॉ० नगेन्द्र

Similar Questions