Doubtnut Promotions Sticky

सल्फैमिक अम्ल का सूत्र है:

A

H2NSO2

B

(NH2)2SO2H

C

NH2SO2OH

D

इनमे से कोई नहीं

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C


सल्फैमिक अम्ल का सूत्र HON.SO2.OH है।

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Similar Practice Problems

  • Question 1 - Select One

    बल का विमीय सूत्र है -

    AM1L1T1
    BM1L1T2
    CM1L1T2
    DM1L2T2
  • Question 1 - Select One

    क्रिस्टलीय ऑक्सेलिक अम्ल का तुल्यांकी भार है:

    A90
    B53
    C63
    D45
  • Question 1 - Select One

    0.25 mol फॉर्मिक अम्ल, (HCO2H) को पर्याप्त जल की मात्रा में घोलकर एक लीटर विलयन बनाया जाता है। इस विलयन का pH = 2.19 है। फॉर्मिक अम्ल का Ka है:

    A6.5×103
    B4.3×104
    C1.7×104
    D5.3×102
  • Question 1 - Select One

    डाइक्लोरोबिस(यूरिया)कॉपर (II) का सूत्र है:

    A[Cu(O=C(NH2)2Cl]Cl
    B[CuCl2(O=C(NH2)2)]
    C[Cu(O=C(NH2)2Cl2]
    D[CuCl2(O=C(NH2)2)2]
  • Question 1 - Select One

    विरंजक चूर्ण में इसके एक घटक के रूप में एक ऑक्सो अम्ल का लवण होता है। उस ऑक्सो अम्ल का ऐनहाइड्राइड है:

    AClO2
    BCl2O6
    CCl2O
    DCl2O7
  • Question 1 - Select One

    विरंजक चूर्ण में इसके एक घटक के रूप में एक ऑक्सोअम्ल का लवण होता है। इस अम्ल का एनहाइड्राइड है:

    ACl2O
    BCl2O7
    CClO2
    DCl2O6
  • Question 1 - Select One

    जब सांद्र H2SO4 में KMnO4 की अत्यधिक मात्रा मिलायी जाती है, तो एक विस्फोटक यौगिक का निर्माण होता है। यौगिक का सूत्र है:

    AMn2O2
    BMn3O4
    CMnO3
    DMnO+3
  • Question 1 - Select One

    फॉस्फोरस और क्लोरीन की उपस्थिति में एसीटिक अम्ल का हैलोजनीकरण किया जा सकता है। फॉर्मिक अम्ल का हैलोजनीकरण इस तरह से नहीं किया जा सकता है, क्योंकि:

    Aफॉर्मिक अम्ल में α-H-परमाणु उपस्थित होता है
    Bफॉर्मिक अम्ल में αH-परमाणु अनुपस्थित होता है
    CCH3COOHमें α -H-परमाणु अनुपस्थित होता है
    Dफॉर्मिक अम्ल की तुलना में, एसीटिक अम्ल की अम्लीय सांद्रता अधिक होती है
  • Question 1 - Select One

    एक यौगिक A का अणु सूत्र C2Cl3OH है। यह फेहलिंग विलयन को अपचयित करता है और ऑक्सीकरण पर एक मोनोकार्बोक्सिलिक अम्ल (B) देता है। एथिल ऐल्कोहॉल पर क्लोरीन की क्रिया द्वारा A प्राप्त किया जाता है। A है:

    Aक्लोरल
    BCHCl3
    CCH3Cl
    Dक्लोरोऐसीटिक अम्ल
  • Question 1 - Select One

    बेन्जीन में घोलने पर एसीटिक अम्ल का द्विलकीकरण होता है तो एसीटिक अम्ल का आण्‍विक द्रव्यमान 120 पाया जाता है।
    ocr_image
    निम्नलिखित में से कौन सा संबंध सही है?
    D= सैद्धांतिक वाष्प घनत्व
    d=प्रेक्षित वाष्प घनत्व

    Aα=2(Ddd)
    Bα=2(DdD)
    Cα=2(dDd)
    Dα=2dDd