Doubtnut Promotions Sticky

एक धातु की पृष्ठ से प्रकाशिक इलेक्ट्रॉनों के उत्सर्जन के लिए आवश्यक न्यूनतम ऊर्जा 4.95×1019J है। इलेक्ट्रॉन को निष्कासित करने के लिए आवश्यक फोटॉन की क्रांतिक आवृत्ति की गणना कीजिए। (h=6.6×1034Jsec)

A

7.5×1014s1

B

7.5×1013s1

C

7.5×1016s1

D

7.5×1019s1

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:A


प्रकाशिक इलेक्ट्रॉनों के उत्सर्जन के लिए आवश्यक निम्नतम ऊर्जा =4.95×1019J
इलेक्ट्रॉन को निष्कासित करने के लिए फोटॉन की क्रांतिक आवृत्ति या देहली आवृत्ति vsec1 है। हम जानते है,
E=hv या v=Eh=4.95×10196.6×1034
=7.5×1014s1

Was this answer helpful?974
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions