Doubtnut Promotions Sticky

एक बंद पात्र में 1.0gMg 0.28gO2 के साथ जलाया जाता है। तो कौन सा अभिकारक आधिक्य में शेष रह जाता है और कितना?

A

Mg,5.8g

B

Mg,0.58g

C

O2,0.24g

D

O2,2.4g

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


संतुलित अभिक्रिया इस प्रकार दी जा सकती है:
2Mg24×2=48+O2322MgO
48 g Mg को जलाने के लिए 32gO2 की आवश्यकता होती है, इसलिए, 0.28gO2,4832×0.28gMg=0.42gMg के लिए आवश्यक होगी। अतः, Mg आधिक्य में शेष रहेगा= 10.42=0.58g

Was this answer helpful?652
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions