Doubtnut Promotions Sticky

अभिक्रिया, जिसके द्वारा बेन्जैल्डिहाइड निर्मित नहीं किया जा सकता है, वह है

A

ocr_image

B

ocr_image

C

ocr_image

D

ocr_image

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C


चूँकि बेंजोइक अम्ल क्लीमेंसन अपचयन नहीं देता है। शेष अन्य विकल्प बेन्जेल्डिहाइड के निर्माण के लिए सही हैं।

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Similar Practice Problems

  • Question 1 - Select One

    जिस हाइड्रोकार्बन को वुर्ट्ज़ अभिक्रिया द्वारा प्रभावी रूप से तैयार नहीं किया जा सकता है, वह है

    Aocr_image
    Bocr_image
    Cocr_image
    Docr_image
  • Question 1 - Select One

    H2O2 को किसके द्वारा संश्लेषित नहीं किया जा सकता है?

    Aबर्फ जैसा इंडा H2SO4 और BaO2 मिलाने पर
    Bबर्फ जैसा ठंडा H2SO4 और PbO2 मिलाने पर
    C2 एथिल एन्रा‍विनॉल का वायवीय ऑक्सीकरण
    Dएक उच्च धारा घनत्व पर (NH4)2SO4 का विद्युत अपघटन
  • Question 1 - Select One

    H2O2 को किसके द्वारा संश्लेषित नहीं किया जा सकता है?

    ABaO2 में बर्फ जैसा ठंडा H2SO4 मिलाने पर
    BPbO2 में बर्फ जैसा ठंडा H2SO4 मिलाने पर
    C2-एथिल एंथ्राक्विनोल का वायवीय ऑक्सीकरण
    Dउच्च धारा घनत्व पर (NH4)2SO4 का विद्युत् अपघटन
  • Question 1 - Select One

    ऐलुमीनियम क्लोराइड और क्यूप्रस क्लोराइड के उत्प्रेरक मिश्रण की उपस्थिति में ………. और ……….. की वाष्प को बेन्जीन विलयन में प्रवाहित करके बेन्जीन से बेन्जेल्डिहाइड को निर्मित किया जा सकता है। अभिक्रिया को ……….. के नाम से जाना जाता है ।

    AHCI,SnCl4, रोज़ेनमुंड अपचयन
    BCO, HCI, गाटरमान कोच अभिक्रिया
    CCO2,H2SO4 , क्लीमेन्सन अपचयन
    DO3, एल्कोहॉल, वोल्फ-किश्नर अपचयन
  • Question 1 - Select One

    एक एल्कीन (A) ओजोनीअपघटन पर दो कार्बोनिल यौगिकों का मिश्रण देती है। मिश्रण क्लीमेंसन अपचयन पर केवल एक एल्केन (B) देता है। (B) निम्नतम एल्केन है जिसे मानक वुर्ट्ज़ विधि द्वारा शुद्ध रूप में निर्मित नहीं किया जा सकता है। (A) है:

    AMeCH = CHMe
    BMeCH2CH=Cme2
    CMeCH2CH2CH2CH=Cet2
    DMeCH2CH2CH=C(Me)Et
  • Question 1 - Select One

    फेनिल मैग्नीशियम ब्रोमाइड की क्रिया किसके साथ कराने पर बेंज़ोइक अम्ल को निर्मित किया जा सकता है

    AN, N-डाइमेथिलफॉर्मामाइड
    Bकार्बन डाइऑक्साइड
    Cफॉर्मेल्डिहाइड
    Dएथिल क्लोरोफॉर्मेट
  • Question 1 - Select One

    किस ईथर का 373 K पर KI द्वारा विदलन नहीं किया जा सकता है?

    AC6H5OCH3
    BC6H5OC6H5
    CC6H5OC3H7
    Docr_image
  • Question 1 - Select One

    किसके साथ अभिक्रिया द्वारा एनीलीन को मेथिल एमीन से विभेदित किया जा सकता है?

    Ap-टॉलूईन सल्फोनिल क्लोराइड/KOH
    B(i)NaNO2/HCl,05C (ii) क्षारीय β-नेफ्थॉल
    CSn/HCl
    Dऐसीटिल क्लोराइड
  • Question 1 - Select One

    निम्नलिखित में से किस धातु को कार्बन अपचयन प्रक्रम द्वारा निष्कर्षित नहीं किया जा सकता है:

    APb
    BAl
    CHg
    DZn
  • Question 1 - Select One

    निम्नलिखित में से किस धातु को कार्बन अपचयन प्रक्रम द्वारा निष्कर्षित नहीं किया जा सकता है:

    APb
    BAl
    CHg
    DZn