Doubtnut Promotions Sticky

निम्नलिखित अभिक्रिया का मुख्य उत्पाद है:
निम्नलिखित अभिक्रिया का मुख्य उत्पाद है:

A

P

B

Q

C

R

D

S

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


फीनॉल में -0H समूह प्रबल +R प्रभाव के कारण अत्यधिक वलय सक्रियणकारी होता है, इसलिए यदि -COOH या SO3H समूह ऑर्थों और पैरा स्थितियों पर उपस्थित होते हैं, तो उन्हें Br+ जैसे इलेक्ट्रॉनस्नेही द्वारा प्रतिस्थापित किया जा सकता है। Br2 का उपयोग जल में करना महत्वपूर्ण होता है ताकि हमें Br+ की अच्छी मात्रा आसानी से प्राप्त हो सके।
ocr_image

Was this answer helpful?1094
Doubtnut Promotions Banner