Doubtnut Promotions Sticky

यदि किसी पात्र, जिसमें अभिक्रिया 2NO+O22NO2 हो रही है, का आयतन अपने प्रारंभिक आयतन का 1/3 वें भाग तक कम हो जाता है। अभिक्रिया की दर में वृद्धि होगी?

A

5 गुना

B

8 गुना

C

27 गुना

D

35 गुना

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C


एक दी गई अभिक्रिया के लिए,
2NO(g)+O2(g)2NO2(g)
अभिक्रिया की दर =k[NO]2[O2]
अभिक्रिया की दर यौगिक की सांद्रता के समानुपाती होती है या पात्र के आयतन के व्युत्क्रमानुपाती होती है।
अर्थात,
CnV
यदि पात्र का आयतन अपने प्रारंभिक मान का 1/3 से कम हो जाता है, तो यौगिक की सांद्रता 3 गुना बढ़ जाती है और परिणामस्वरूप अभिक्रिया की दर 27 गुना बढ़ जाती है।

Was this answer helpful?912
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions