Doubtnut Promotions Sticky

1.08 g भार वाली Pb - Ag की एक मिश्रधातु को तनु HNO3 में घोला गया और 100 mL आयतन बनाया गया | एक सिल्वर इलेक्ट्रोड को विलयन में डुबोया गया और सेल Pt(s)H2(g)H+(1M)Ag+(aq)Ag(s) का विद्युत वाहक बल (emf) 0.62 V प्राप्त किया गया। यदि E=0.80V है, तो मिश्रधातु में Ag की प्रतिशतता क्या है? (25C पर, RT/F=0.06)

Text Solution
Verified by Experts

सम्पूर्ण सेल अभिक्रिया है:
H2(g)+2Ag+<2Ag(s)+2H+(aq)
E=E0.06×2.3032log[H+]2[Ag+]2pH2
0.62=0.80+2×0.06×2.3032log[Ag+]
[Ag+]=0.05M
100 mL में Ag+ के मोलों की संख्या
=MV100=0.05×1001000=0.005
सिल्वर का द्रव्यमान = 0.005×108
1.08 g मिश्रधातु में Ag की प्रतिशतता है
=0.005×108×1001.08=50%

Was this answer helpful?136
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions