Doubtnut Promotions Sticky

SbF5 एक योगोत्पाद बनाने के लिए XeF4 के साथ अभिक्रिया करता है। योगोत्पाद में धनायन और ऋणायन की आकृतियाँ क्रमश: हैं -

A

वर्ग समतलीय, त्रिकोणीय द्विपिरामिडीय

B

T-आकृति, अष्टफलकीय

C

वर्ग पिरामिडीय, अष्टफलकीय

D

वर्ग समतलीय, अष्टफलकीय

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


XeF4+SbF5[XeF3]+[SbF6][XeF3]+sp3dT-ि+[SbF6]sp3d2
जैसा कि [XeF3]+ में 3 बंध युग्म और 2 एकाकी इलेक्टॉन यग्म होते हैं. इसलिए इसका sp3d संकरण और T - आकृति होती है |
[SbF)6] में 6 बंध युग्म इलेक्ट्रॉन होते है , इसलिए इसका sp3d2 संकरण और अष्टफलकीय आकृति होती है |

Was this answer helpful?1094
Doubtnut Promotions Banner
Updated on:21/07/2023

Similar Questions