Doubtnut Promotions Sticky

40 g जल में 1.8 g यौगिक (मूलानुपाती सूत्र CH2O ) युक्त एक विलयन, 0.465C पर जम जाता है। यौगिक का अणुसूत्र है - (जल के लिए Kf=1.86kgKmol1)

A

C2H4O2

B

C3H6O3

C

C5H10O5

D

C6H12O6

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:D


M2=Kf×w2×1000ΔTf×w1
या M2=1.86×1.8×10000.465×40=180
n=180 =18030=6
यौगिक का अणुसूत्र C6H12O6 है।

Doubtnut Promotions Banner
|
Updated on:21/07/2023

Similar Practice Problems

  • Question 1 - Select One

    यौगिक PdCl4.6H2O एक जलयोजित संकुल है, इसके 1 मोलल जलीय विलयन का हिमांक 269.28 K है। संकुल का आयनन 100% मानते हुए संकुल के आण्विक सूत्र की गणना कीजिए। (जल के लिए Kf=1.86k kg mol1)

    A[Pd(H2O)6]Cl4
    B[Pd(H2O)4Cl2]Cl2.2H2O
    C[Pd(H2O)3Cl3]Cl.3H2O
    D[Pd(H2O)2Cl4].4H2O
  • Question 1 - Select One

    हिमांक बिंदु और क्वथनांक बिंदु के बीच 105.0C के अंतर वाला विलयन प्राप्त करने के लिए, सुक्रोस (अणुभार = 342 g) की मात्रा (ग्राम में) ज्ञात कीजिये, जिसे 100 g जल में मिलाया जाना चाहिए : (दिया गया है, जल के लिए Kf=1.86kkgmol1Kb=0.51kkgmol1)

    A34.2g
    B72.2g
    C342g
    D450g
  • Question 1 - Select One

    यदि एक कोबाल्ट (III) क्लोराइड-अमोनिया संकुल (जो एक प्रबल विद्युत्-अपघट्य के रूप में व्यवहार करता है) के 0.01 मोलल जलीय विलयन का हिमांक 0.0558C है, तब संकुल के समन्वय गोलक में क्लोराइड की संख्या होगी
    [जल के लिए Kf=1.86Kkg mol1 है]

    A1
    B2
    C4
    D3
  • Question 1 - Select One

    एथिल ऐल्कोहॉल का कितना भार 1.0 L जल में मिलाया जाना चाहिए ताकि विलयन 14°F पर जम जाए: (जल का Kf=1.86Kkgmol1)

    A263.11 g
    B247.11 g
    C236.11 g
    D281.01 g
  • Question 1 - Select One

    273 K और 1 बार पर शुद्ध जल जम जाता है। 500g जल में 34.5 g एथेनॉल को मिलाने पर विलयन का हिमांक परिवर्तित हो जाता है। जल के हिमांक अवनमन स्थिरांक के लिए 2Kkgmol1 का उपयोग कीजिए। नीचे दिखाए गए चित्र वाष्प दाब (V.P.) और तापमान (T) के आलेख को निरूपित करते हैं [एथेनॉल का अणु भार 46gmol1 निम्नलिखित में से हिमांक में परिवर्तन को दर्शाने करने वाला विकल्प है

    Aocr_image
    Bocr_image
    Cocr_image
    Docr_image
  • Question 1 - Select One

    एक विद्युत अनअपघट्य के जलीय विलयन का क्वथनांक 100.52C है । तब इस विलयन का हिमांक होगा?
    [दिया गया है जल के लिए kf=1.86kgmol1,kb=0.52Kkgmol1]

    A0C
    B1.86C
    C1.86C
    Dउपरोक्त में से कोई नहीं
  • Question 1 - Select One

    175 g जल में 12.5g वैद्युत अनपघट्य पदार्थ युक्त विलयन का क्वथनांक उन्नयन 0.70 K प्राप्त होता है। पदार्थ के मोलर उन्नयन स्थिरांक (Kb) 0.52Kkgmol1 है।

    A53
    B65
    C84
    D79
  • Question 1 - Select One

    यौगिक में, C, H और N परमाणु भारानुसार 9: 1: 3.5 अनुपात में उपस्थित हैं। यौगिक का अणुभार 108 है। यौगिक का अणु सूत्र है :

    AC2_(6)N2
    BC3H5N
    CC6H8N2
    DC9H12N3
  • Question 1 - Select One

    यौगिक (X) जिसका अणु सूत्र C6H10Cl2 है, जल-अपघटन पर एक कीटोन देता है। इसलिए (X) होगा :

    ACH3ClCHCH2ClCHCH2CH3
    BCH3ClCHCH2CH2CH2CH2Cl
    CCH3CH2CH2CH2CH2CHCl2
    DCH3CH2CH2ClCClCH2CH3

Similar Questions