Doubtnut Promotions Sticky

वक्तव्य I F - F आबन्ध में आबन्ध वियोजन ऊर्जा निम्न होती है।
वक्तव्य II फ्लोरीन की क्रियाशीलता कम होती है।

A

वक्तव्य I सत्य है, वक्तव्य II सत्य है, वक्तव्य II, वक्तव्य I का सही स्पष्टीकरण है।

B

वक्तव्य I सत्य है, वक्तव्य II सत्य है, वक्तव्य II, वक्तव्य I का सही स्पष्टीकरण नहीं है।

C

वक्तव्य । सत्य है, वक्तव्य ।। असत्य है।

D

वक्तव्य । असत्य है: वक्तव्य II सत्य है।

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C


F - F बन्ध की बन्ध वियोजन ऊर्जा कम होने के कारण फ्लोरीन बहुत क्रियाशील होती है।

|
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions