Doubtnut Promotions Sticky

CN+,CN,NO,CN, सर्वाधिक बन्ध क्रम किसका है ?

A

CN+

B

CN

C

NO

D

CN

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


बन्ध क्रम का सूत्र होता है,
बन्ध क्रम =NoNa2.
जहाँ. No = बन्चित इलेक्ट्रॉनों की संख्या तथा Na = प्रतिबन्धित इलेक्ट्रॉनों की संख्या विभिन्न अणुओं के आण्विक कक्षकों के लिए, ऊर्जा स्तर रूप उनके केन्द्रीय परमाणु पर निर्भर करते हैं।
(a) CN+ केन्द्रीय परमाणु है [इलेक्ट्रॉनों की कुल संख्या = 12]
σ1s2,σ1s2,σ2s2,(2πp2x=π2p2y)
आबन्ध कोटि = 842=2
(b) CN में केन्द्रीय परमाणु है
[इलेक्ट्रॉनों की कुल संख्या -14] σ1s2,σ1s2,σ2s2,σ2s2,(π2p2x=π2p2y,σ2p22)
आयच्च कोटि = 1042=3
(c) NO केन्द्रीय परमाणु N है
[इलेक्ट्रॉनों की कुल संख्या = 15]
σ1s2,σ1s2,σ2s2,σ2s2,(π2p2x=π2p2y),σ2p2z,(π2p1x=π2p0y)
आथन्ध कोटि = 1052=2.5
(d) CN केन्द्रीय परमाणु है
[इलेक्ट्रॉनों की कुल संख्या = 13] σ1s2,σ1s2,σ2s2,σ2s2,(π2p2x=π2p2y,σ2p2z),σ2p1z
आबन्ध कोटि = 942=2.5
बन्ध कोटि ज्ञात करने की वैकल्पिक लघु विधि
[20 इलेक्ट्रॉनों तक कुल योग के लिए]
(i)सामान्य अवस्था में (अर्थात् आवेश रहित अवस्था में) दिए गए अणु आयन की कुल इलेक्ट्रॉनों की संख्या में प्रत्येक धनावेश के लिए एक इलेक्ट्रॉन कम तथा प्रत्येक ऋणावेश के लिए एक इलेक्ट्रोंन अधिक कर दें।
(ii) यदि इलेक्ट्रॉनों का कुल योग 4. अयया 20 है, तो आवन्ध क्रम शून्य होगा।
(iii) (a) 9 से 14 तक इलेक्ट्रॉनों का कुल योग होने पर, आबन्ध क्रम में प्रति इलेक्ट्रॉन 0.5 अंक की वृद्धि
(b) 15 से 19 तक इलेक्ट्रॉनों का कुल योग होने पर, आबन्ध क्रम में प्रति इलेक्ट्रॉन 0.5 अंक की कमी होगी। नोट कुल योग 14 होने पर, आबन्ध क्रम 3 होगा।
उदाहरण [N2.(N=N)]
(iv) 1 से 7 तक इलेक्ट्रॉनों का योग होने पर (योग -4 के अतिरिक्त)
(a) सम योग के लिए, आबन्ध क्रम -1.0
(b) विषम योग के लिए, आबन्ध क्रम = 0.5 होगा।

Was this answer helpful?896
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions