Doubtnut Promotions Sticky

यदि निकाय के समीकरणों xkyz=0,kxyz=0 तथा x+yz=0 का एक अशून्य हल है, तो k का संभावित मान होगा

A

1,2

B

1,2

C

0,1

D

1,1

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:D


दिया हैं,

समीकरण
xkyz=0
kxyz=0
x+yz=0
एक अशून्य हल है, तो k के सम्भव मान =?

अतः हम जानते हैं की, अशून्य हल के लिए xyz के गुणांकों का योग शून्य होता हैं|

अतः Δ=0

∣ ∣1k1k11111∣ ∣=0

प्रसार करने पर,

1[{(1)(1)(1)×1)}(k){(1)(k)(1)×1}1{k×1(1)×1}]=0

1(1+1)+k(k+1)1(k+1)=0

1(2)+(k2+k)(k+1)=0

2+(k2)+kk1=0

2k21=0

1k2=0

चूँकि हम जानते हैं की, (a2b2)=(ab)(a+b)

(1k)(1+k)=0

k=+1, 1

अतः k = +1,-1 समीकरण निकाय के लिए एक अशून्य हल होगा।

Was this answer helpful?278
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions