Doubtnut Promotions Sticky

सिद्ध कीजिए कि किसी गुणोत्तर श्रेढ़ी के आरम्भ और अंत से संदुररस्थ पदों का गुणनफलन सदैव अचर रहता है ।

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:यह एक अचर राशि है,क्योंकि यह p से स्वतन्त्र है ।

Was this answer helpful?920
Answer

Step by step video, text & image solution for सिद्ध कीजिए कि किसी गुणोत्तर श्रेढ़ी के आरम्भ और अंत से संदुररस्थ पदों का गुणनफलन सदैव अचर रहता है । by Maths experts to help you in doubts & scoring excellent marks in Class 11 exams.

Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions