Doubtnut Promotions Sticky

अभिक्रिया A+2B3C+2D में किसी क्षण D में किसी क्षण D की सांद्रता में होने वाले परिवर्तन की दर 0.4 mol L1s1 उस क्षण पर अभिक्रिया की दर, A तथा B विलुप्त (disappearance) होने की दर तथा C के बनने (appearance) की दर की गणना कीजिये।

Video Solution
Doubtnut Promotions Banner
Text Solution
Verified by Experts

निम्न अभिक्रिया के लिए,
A+2B3C+2D
अभिक्रिया की दर =dAdt=12dBdt=13dCdt=12dDdt
प्रश्नानुसार, d[D]dt=0.4molL1s1
अभिक्रिया की दर =12d[D]dt=12×0.4=0.2molL1s1
A के विलुप्त होने की दर =dAdt=12dDdt=12×0.4=0.2molL1s1
B के विलुप्त होने की दर =dBdt=dDdt=0.4molL1s1
C के बनने की दर =dCdt=32dDdt=32×0.4=0.6molL1s1

Was this answer helpful?672
Updated on:21/07/2023

Related Playlists


Similar Questions