doubtnut_header_logo_white_new

A2(g)+B2(g)2AB(g),ΔH=+ve

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

Updated On: 27-06-2022

लिखित उत्तर

A
यह उच्च ताप पर होगी
B
यह 1000 दाब पर होगी
C
यह उच्च ताप व दाब पर होगी
D
दाब से अप्रभावित
Answer
The correct Answer is d
Solution
A2(g)+B2(g)2AB(g),ΔH=+ve
उपरोक्त समीकरण में आयतन में परिवर्तन नहीं हो रहा है। अत: दाब अपरिवर्तित रहेगा क्योंकि (V1P)

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

कुछ पैसे चाहिए तो हमें क्या पता है सुषमा सुषमा सुषमा सुषमा कुमारी यह पूछता वह दा पर होगी तुरंत
बुद्धा पर होगी क्योंकि इसमें डाटा एंट्री के अंदर में डाटा जो दांत का मतलब
संबंधित वीडियो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया A2(g)+B2(g)2ABg,ΔH=+ve

559605390

2.9K03:35

अभिक्रिया A2(g)+B2(g)2ABg,ΔH=+ve
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया PCl3(g)+Cl2(g)<PCl5(g,ΔH=+ve के लिये साम्य की स्थिति किसके द्वारा दांयी तरफ की जा सकती है

559605393

7.1K02:48

अभिक्रिया PCl3(g)+Cl2(g)<PCl5(g,ΔH=+ve के लिये साम्य की स्थिति किसके द्वारा दांयी तरफ की जा सकती है
doubtnut_header_logo_white_new
TEXT SOLUTION
A2 तथा B2 द्वारा अभिव्यक्त की गई दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB(g) यौगिक बनता है |
A2(g)+B2(g)2AB(g)
साम्य पर A2,B2 तथा AB की सान्द्रताएँ इस प्रकार है
A2 की सान्द्रता =3.0×103M
B2 की सान्द्रता =4.2×103M
AB की सान्द्रता =2.8×102M
यदि 527C पर अभिक्रिया एक बंध पात्र में होती है तो KC का मान होगा

368907287

3.9K

A2 तथा B2 द्वारा अभिव्यक्त की गई दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB(g) यौगिक बनता है |
A2(g)+B2(g)2AB(g)
साम्य पर A2,B2 तथा AB की सान्द्रताएँ इस प्रकार है
A2 की सान्द्रता =3.0×103M
B2 की सान्द्रता =4.2×103M
AB की सान्द्रता =2.8×102M
यदि 527C पर अभिक्रिया एक बंध पात्र में होती है तो KC का मान होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
A2 तथा B2 द्वारा अभिव्यक्त की गई दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB(g) यौगिक बनता है।
A2(g)+B2(g)2AB(g)
साम्य पर A2B2, तथा AB की सान्द्रताएँ इस प्रकार हैं
A2 की सान्द्रता =3.0×103M
B2 की सान्द्रता =4.2×103M
AB की सान्द्रता =2.8×103M यदि 527°C ताप पर अभिक्रिया एक बंद पात्र में होती है तो Kc का मान होगा

645791713

6.8K02:43

A2 तथा B2 द्वारा अभिव्यक्त की गई दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB(g) यौगिक बनता है।
A2(g)+B2(g)2AB(g)
साम्य पर A2B2, तथा AB की सान्द्रताएँ इस प्रकार हैं
A2 की सान्द्रता =3.0×103M
B2 की सान्द्रता =4.2×103M
AB की सान्द्रता =2.8×103M यदि 527°C ताप पर अभिक्रिया एक बंद पात्र में होती है तो Kc का मान होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
A2 तथा B2 दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB (g ) योगिक बनता हैं|
A2(g)+B2(g)<2AB(g)
साम्य पर A2,B2 तथा AB की सांद्रताएँ निम्न प्रकार हैं, A2 की सांद्रता =3.0×103 M
B2 की सांद्रता =2.8×103M
यदि 527C ताप पर अभिक्रिया एक बंद पात्र में होती हैं तो Kc का मान होगा:

94847184

4.9K02:43

A2 तथा B2 दो गैसों के बीच अभिक्रिया होने पर AB (g ) योगिक बनता हैं|
A2(g)+B2(g)<2AB(g)
साम्य पर A2,B2 तथा AB की सांद्रताएँ निम्न प्रकार हैं, A2 की सांद्रता =3.0×103 M
B2 की सांद्रता =2.8×103M
यदि 527C ताप पर अभिक्रिया एक बंद पात्र में होती हैं तो Kc का मान होगा:
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया में निम्नलिखित में से कौन-सी दशा अधिकतम उत्पाद निर्माण के लिए उत्तरदायी है
A2(g)+B2(g)X2(g)ΔrH=X किलोजूल ?

645690158

6.9K05:52

अभिक्रिया में निम्नलिखित में से कौन-सी दशा अधिकतम उत्पाद निर्माण के लिए उत्तरदायी है
A2(g)+B2(g)X2(g)ΔrH=X किलोजूल ?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया में निम्नलिखित में से कौन - सी दशा अधिकतम उत्पाद निर्माण के लिए उत्तरदायी है ?
A2(g)+B2(g)X2(g),ΔrH=X किलोजूल

368907195

8.8K05:52

अभिक्रिया में निम्नलिखित में से कौन - सी दशा अधिकतम उत्पाद निर्माण के लिए उत्तरदायी है ?
A2(g)+B2(g)X2(g),ΔrH=X किलोजूल
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि अभिक्रिया 2ABA2+B2 के लिए साम्य स्थिरांक का मान 49 है तो अभिक्रिया AB12A2+12B2 , के लिए साम्य स्थिरांक का मान होगा

555833109

7.2K04:13

यदि अभिक्रिया 2ABA2+B2 के लिए साम्य स्थिरांक का मान 49 है तो अभिक्रिया AB12A2+12B2 , के लिए साम्य स्थिरांक का मान होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया N2(g)+3H2(g)2NH3(g),ΔH93.6kJ, के अनुसार अधिकतम NH3 उत्पादन किया जा सकता है

555833155

4K04:30

अभिक्रिया N2(g)+3H2(g)2NH3(g),ΔH93.6kJ, के अनुसार अधिकतम NH3 उत्पादन किया जा सकता है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
नीचे लिखे अभिक्रियाओं पर ताप और दाब बढ़ाने का क्या प्रभाव पड़ेगा ?
2NO(g)+O2(g)2NO2(g),ΔH=116.32kJ.

225673797

0.6K02:18

नीचे लिखे अभिक्रियाओं पर ताप और दाब बढ़ाने का क्या प्रभाव पड़ेगा ?
2NO(g)+O2(g)2NO2(g),ΔH=116.32kJ.
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
नीचे लिखे अभिक्रियाओं पर ताप और दाब बढ़ाने का क्या प्रभाव पड़ेगा ?
N2(g)+O2(g)2NO(g),ΔH=180kJ.

225673795

4.6K02:37

नीचे लिखे अभिक्रियाओं पर ताप और दाब बढ़ाने का क्या प्रभाव पड़ेगा ?
N2(g)+O2(g)2NO(g),ΔH=180kJ.
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया A2(g)+4B2(g)<2AB4(g) में ΔH<0,AB4 का निर्माण अनुकूल होगा

559605414

7.9K06:26

अभिक्रिया A2(g)+4B2(g)<2AB4(g) में ΔH<0,AB4 का निर्माण अनुकूल होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अभिक्रिया Ag+4B2(g)2AB4(g),Δ<0 में AB4(g) के निर्माण को प्रेरित करेंगे-

110395453

7K06:26

अभिक्रिया Ag+4B2(g)2AB4(g),Δ<0 में AB4(g) के निर्माण को प्रेरित करेंगे-
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
Ag+Bg<Cg+Dg
298 K पर उपरोक्त अभिक्रिया के लिए ΔH तथा ΔS के मान क्रमश: 29.8 किलो कैलोरी तथा -0.1 किलो कैलोरी K1 है। अभिक्रिया के लिए साम्य सिथरांक का मान ज्ञात करो।

94846791

0.2K03:01

Ag+Bg<Cg+Dg
298 K पर उपरोक्त अभिक्रिया के लिए ΔH तथा ΔS के मान क्रमश: 29.8 किलो कैलोरी तथा -0.1 किलो कैलोरी K1 है। अभिक्रिया के लिए साम्य सिथरांक का मान ज्ञात करो।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(l)ΔH=40kj उपरोक्त समीकरण में ΔH प्रदर्शित करता है

94846378

3.5K02:16

CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(l)ΔH=40kj उपरोक्त समीकरण में ΔH प्रदर्शित करता है