Getting Image
Please Wait...
Login
Register now for special offers
+91

Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Physics

>

Chapter

>

किरण प्रकाशिकी एवं प्रकाशिक यन्त्र

>

मान लीजिये कि आप किसी स्थिर ...

Updated On: 27-06-2022

Get Answer to any question, just click a photo and upload the photo and get the answer completely free,

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

Loading Books

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

प्रश्न है कि मान लीजिए कि आप किसी इस सरकार में बैठे हैं आप 2 सेंटीमीटर वक्रता त्रिज्या के पास हो दर्पण में किसी धावक को अपनी ओर आता हुआ देख रहे हैं यदि धावक 5 मीटर प्रति सेकंड की चाल से दौड़ रहा है तो उसका प्रतिबिंब कितनी जाल से दौड़ता प्रतीत होगा जबकि धावक 39 मीटर 29 मीटर 19 मीटर एवं 9 मीटर दूर हो भाई इस प्रश्न को हल करते हैं माफ कीजिएगा 2 सेंटीमीटर नहीं है 2 मीटर है वक्रता त्रिज्या है वह 2 मीटर दे रही है तो इस प्रश्न को आगे हल करते हैं तो सबसे पहले हम देखते हैं कि उत्तल दर्पण के लिए क्योंकि हम जानते हैं कि जो कार के पार्षद दर्पण में लगा होता है वह

दर्पण होता है तो उत्तल दर्पण के लिए हम लिखेंगे 1 बटा 1 बराबर 1 बटा 2 - 1 बटा भी हम जानते हैं कि जो सूत्र होता है वही बनता है तो बी का सूत्र बनता है यह बटा 2 - तो हम जो सूत्र है उसको इस प्रकार भी लिख सकते हैं तो सबसे पहले हम देखते हैं कि जो एक बराबर हमें 39 मीटर दिया हुआ है उसके लिए हम लिखते हैं ए = एसक्यू है वह बराबर -39 मीटर = - 39 मीटर हमने -39 इसलिए लिखा है क्योंकि जो वस्तु है कभी तो धावक है

इधर है और हम इस दिशा को ऋण आत्मक लेते हैं हम देखते हैं क्यू = - 39 मीटर मीटर होगा क्योंकि और बराबर हमें 2 मीटर दिया है वह बराबर हमें 1 मीटर दिया है और क्योंकि ऐप है इधर इस हो रहे तो एवं धनात्मक लेंगे पता है जो भी कमा निकल कर आता है बे निकल कर आता है - 39 गुना 1 बटा -39 - 1 यह होगा - 39 बटा -40 बराबर 39 बटा 40 मीटर मतलब जो भर्ती पर मैं वहां कहीं यहां कई बनेगा अर्थात पृथ्वी में हम देख सकते हैं कि आवासी होगा तब देखते हैं कि उसको क्या चाल नजर आती है तो जो कि हम हम जानते हैं कि तो धावक की चाल है

दवा की चाल मैप 5 मीटर प्रति सेकंड दे रखी है 5 मीटर प्रति सेकंड में दे रखी है तो जो कि एक सेकेंड बाद जूजू का मान होगा वह - 39 प्लस 5 बराबर -34 मीटर होगा क्योंकि यह धावक दर्पण के पास आ रहा है अच्छा वक्त दर्पण के पास जा रहा है तो यू का मन करता जाएगा 36 मीटर आ जाएगा तो यहां पर भी कमर निकालते हैं जो कि होगा - 34 गुना 1 बटा मैंने सोते मैंने जो कि निकल कराता 34 बटा 35 मीटर तक की 1 सेकंड बाद विस्थापन जो होगा

एक सेकेंड बाद विस्थापन होगा वह होगा विस्थापन बराबर सबसे पहले जो विस्थापन सबसे पहले जरूरी थी वह दूरी थी 39 बटा 40 उसके बाद जो होगी वह आएगी 34 बटा 35 इसको हल करते हैं तो यह निकलता है 1365 बटा 13 से 40 बटा 140 मस्जिदें 14014 से निकल कर आता है 25 बटा 14 बराबर 1 बटा 280 मीटर फतेह की औसत चाल हुई जब तक 39 मीटर पर्दा 40 मीटर

दवा की औसत चाल जो हमने निकाली है वह है 1 बटा 280 मीटर प्रति सेकंड जिसको कि हम लिख सकता है जीरो पॉइंट 0035 7 मीटर प्रति सेकंड यह हमारी हो गई पहली विधि हमारे पास चावल निकालने के लिए एक से ज्यादा विधि है क्योंकि यह है पहली विधि एवं दूसरी विधि का इस्तेमाल करते हैं जो कि हमारी एनसीईआरटी की पुस्तक में नहीं दी होती है परंतु वह दूसरी विधि भी काफी इस्तेमाल में आती है दूसरी विधि परंतु दूसरी विद सभी इस्तेमाल में आएगी जब हम देखते हैं कि विस्थापन छोटा हो क्योंकि हम जानते हैं क्योंकि हम जो विधि इस्तेमाल करने वाले हैं हम एक बार उसको देख लेते हैं

क्योंकि हम जानते हैं 1 बटा 1 बराबर 1 बटा 2 - 1 बटा फ्री होता है उत्तल दर्पण के लिए आगे हम इसका टी के सापेक्ष अवकलन करेंगे जिसे निकालेगा यह तो जीरो जाएगा क्योंकि हम जानते हैं कि जो फोकस दूरी होगी वह समय के साथ नहीं बदलेगी रिया हो जाएगा वन माइनस बी स्क्वायर डी यू बाय डीटी प्लस 1 बटा बी स्क्वायर डिवाइड ए टी सुखी हम जानते हैं कि जो 1 बटे एक्स का गड्डी एक्सपीडीपी करेंगे तो यह है माइनस वन बाय एक्स स्क्वायर आएगा आएगा माफी दे मैंने गलत लिख दिया इधर

क्या आएगा डिवाइड एटी वन बाय एक्स एचडी एक्स बैंडिट ई मिस कॉल किया है तो हेड dvb-tt हो जाएगा वी स्क्वायर बटा स्क्वायड यू बाय डीटी क्योंकि जो डीपी बॉस डीपी है वह है प्रतिबिंब की चाल / की चाल तथा वस्तु की चाल शतायु और भी हम ऊपर के सूत्र में देख चुके हैं कि जो भी जो हमें दिया गया है वह -39 है सभी का मान 39 बटा 40 निकल कर आता है

आइए हल करते हैं और सूत्र में मान रखते हैं तो 39 बटा 40 का होल स्क्वायर बटा 39 का होल स्क्वायर * 5 = 16 * 5 क्योंकि 1 बटा 300 और जो कि हालांकि जीरो 500 333 मीटर प्रति सेकंड है क्योंकि हम देख सकते हैं यह जो महान है और यह जो मान है फिर मानव में कुछ खास अंतर नहीं है तो आता है हम इस सूत्र का उपयोग भी चाल निकालने के लिए कर सकते हैं तो बाकी भागों के लिए हम देखते हैं इसमें भी बराबर दिया है क्यू = - 29 मीटर रेस के लिए बी का फार्मूला हो जाएगा यू बीएफ 1 - 1 गुना

1 बटा 29 - 1 से 29 बटा 30 मीटर हो जाएगा बच्चों की dvb-tt जैसा कि आपने ऊपर निकाला यह है बी स्क्वायर 5 स्क्वायर * ड्यू बैठी थी तो चुकी है 2930 का होल स्क्वायर का होल स्क्वायर * 5 यानी कि 1 बटा 900 गुना 5 बराबर 1 बटा 47 बटा 180 हो गए 1 बटा 180 मीटर प्रति सेकंड अगर पहेली विधि से

हल किया जाए इस का मान बराबर 1 बटा 150 मीटर प्रति सेकंड निकल कर आता है जोकि 150 और 138 में ज्यादा अंतर नहीं 1 बटा 150 और 1 बटा 180 में तो इसी प्रकार हम सीता जी दोनों के लिए निकाल सकते हैं उसी के लिए निकलेगा यू बराबर -19 मीटर है बी = - 19 गुना 1 बटा -19 - 1 बटा 20 तो चड्डी वीबर्टर डीटी आएगा भाई आएगा बी स्क्वायर 5 स्क्वायर * 2 बटा डेटिंग 19 बटा 20 बटा 19 का होल स्क्वायर * 5 6 हो जाएगा 1 बटा 400 * 5 जो कि 1 बटा 80 है और अगर इससे पहले विधि से हल

किया जाए तो तुझे मान निकल कर आता है वह 1 बटा 60 मीटर प्रति सेकंड आता है हम देख सकते हैं कि 1 बटा 3 और 1 बटा 7 में भी कुछ खास अंतर नहीं है अब हम करते हैं डी वाला भाग जिसमें 2 बटा -9 मीटर है तो भी कमाने का लगाव - 9 गुना 1 बटा -9 - 9 बटा 10 मीटर जेडीयू बटा दीदी निकलता है वह निकलता है बी स्क्वायर बटा स्क्वायर 2 बटा 20 सेकंड 9 बटा 10 बटा 9 का होल स्क्वायर * 5 = 1 बटा 100 * 5 * बटा

101 बटा 20 मीटर प्रति सेकंड अब पहली विधि से अगर हम निकालते हैं तो यह मान 1 बटा 10 मीटर प्रति सेकंड आते हैं हम देखें एक बड़ा बेईमान सीधा 1 बटा 10 हो गया है यानी कि मांगना परिवर्तन है क्योंकि हम देख सकते हैं कि यहां पर जो दूसरे भी दी है वह हर जगह उपयोग नहीं होगी इधर तो सही उत्तर होगा वह पहली विधि से पहले भी दी वाला होगा तो अब हम देखते हैं कि पहली विधि और दूसरी विधि को कब-कब इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि अगर वस्तु फोकस दूरी से होकर जो बिंदु होता है उस बिंदु से दूर है तब हम

दूसरी हिंदी का प्रयोग कर सकते हैं प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि हम देखते हैं कि पहले पहले वाले में जो 39 मीटर हमें दिया गया था उस 39 मीटर में हम देख सकते हैं कि यह फोकस दूरी से काफी ज्यादा फोकस बिंदु से काफी ज्यादा दूरी है तो इधर हम पहले भी इस्तेमाल कर सकते हैं दूसरे में भी कहीं नहीं कर सकते हैं परंतु जैसे कहीं ना कहीं तीसरे और चौथे की बात आती है तो बातें आती है तो यहां पर मान काफी विचलित होने लगता है तो हम देख सकते हैं कि अगर बिन फोकस दूरी के पास हो वस्तु फोकस दूरी के पास हो

तो हमें पहली विधि का ही इस्तेमाल करना होगा वहां दूसरी विधि द्वारा निकाला गया उत्तर गलत होगा इस प्रकार हमने अपने प्रश्नों को हल किया

संबंधित वीडियो

Show More
Comments

Add a public comment...