Doubtnut Promotions Sticky

एक ऐल्कोहॉल, P जो धनात्मक आयोडोफार्म परीक्षण देता है, PCC (pyridinium chloro chromate) के दो मोलों से अभिक्रिया करके यौगिक Q बनाता है। यौगिक Q को KOH के साथ गर्म करने पर यौगिक R बनाता है। R के ओजोनीकरण से एक त्रि-कार्बोनिल (tricarbonyl) यौगिक S प्राप्त होता है जो LiAlH4 के साथ अभिक्रिया कराने पर यौगिक T की निम्नलिखित संरचना देता है।
एक ऐल्कोहॉल, P जो धनात्मक आयोडोफार्म परीक्षण देता है, PCC (pyridinium chloro chromate) के दो मोलों से अभिक्रिया करके यौगिक Q बनाता है। यौगिक Q को KOH के साथ गर्म करने पर यौगिक R बनाता है। R के ओजोनीकरण से एक त्रि-कार्बोनिल (tricarbonyl) यौगिक S प्राप्त होता है जो LiAlH(4) के साथ अभिक्रिया कराने पर यौगिक T की निम्नलिखित संरचना देता है।      कार्बोनिल यौगिक S की संरचना क्या है?
कार्बोनिल यौगिक S की संरचना क्या है?

A

ocr_image

B

ocr_image

C

ocr_image

D

ocr_image

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:A

|
Updated on:21/07/2023

Similar Questions


Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    एक यौगिक जो धनात्मक आयोडोफॉर्म परीक्षण देता है, वह है:

    A1-पेन्टेनॉल
    B3-पेंटेनोन
    C2-पेंटेनोन
    Dपेंटेनैल
  • Question 2 - Select One

    फ्लोरीन की जल के साथ अभिक्रिया होने पर कौनसे यौगिक का निर्माण होता है?

    AHF और O3
    BHF और O2
    CHF और OF2
    DHF,O2 और O3
  • Question 3 - Select One

    निम्नलिखित में से कौन सा एक कार्बधात्विक यौगिक नहीं है?

    Aजाइसे लवण
    BTEL
    Cसोडियम एथॉक्साइड
    Dफेरोसिन