Doubtnut Promotions Sticky

नाभिकस्नेही ऐरोमैटिक प्रतिस्थापन
नाभिकस्नेही ऐरोमैटिक प्रतिस्थापन           वह प्रजाति (species), जो कि पदा में ऐरोमैटिक वलय से जुड़ती है, एक नाभिक स्नेही (nucleophile) जैसे कि मेथॉक्साइड (CH3O^Theta)  होनी चाहिए, न कि कोई इलेक्ट्रॉन स्नेही (electrophile) जैसे कि नाइट्रोनियम आयन (NO2^+) |      पद-1 इलेक्ट्रॉन दाता (electron donating) प्रतिस्थापक की अपेक्षा इलेक्ट्रॉन प्रतिकर्षी (withdrawing) द्वारा अधिक सरलता से होती है जो प्रतिस्थापक (substituents) जो इलेक्ट्रॉन स्नेही ऐरोमैटिक प्रतिस्थापन (electrophilic aromatic, substitution) में सक्रियता नाशी (deactivating) होते हैं, वही समूह नाभिक स्नेही एरोमैटिक प्रतिस्थापन में सक्रियता वर्धक (activating) होते हैं। यह प्रभाव प्रबल इलेक्ट्रॉन निकासी (strongly electron withdrawing) समूहों के लिये अधिक प्रभावी होता है जब ये समूह निकलने वाले समूह (deaving group) की o- अथवा P- स्थिति पर होते हैं। . द्वितीय पद के होने के लिये यह आवश्यक है कि निकलने वाले समूह (leaving group) को वलय के साथ बन्धित (Bonding) करने वाले इलेक्ट्रॉन समूह के साथ ही निकल जायें, न कि वलय के निकाय Esystem) का भाग बने रहें।               निम्नलिखित यौगिकों में से कौन ArSN^2 अभिक्रिया के लिये सर्वाधिक क्रियाशील है?
वह प्रजाति (species), जो कि पदा में ऐरोमैटिक वलय से जुड़ती है, एक नाभिक स्नेही (nucleophile) जैसे कि मेथॉक्साइड (CH3OΘ) होनी चाहिए, न कि कोई इलेक्ट्रॉन स्नेही (electrophile) जैसे कि नाइट्रोनियम आयन (NO+2) |
पद-1 इलेक्ट्रॉन दाता (electron donating) प्रतिस्थापक की अपेक्षा इलेक्ट्रॉन प्रतिकर्षी (withdrawing) द्वारा अधिक सरलता से होती है जो प्रतिस्थापक (substituents) जो इलेक्ट्रॉन स्नेही ऐरोमैटिक प्रतिस्थापन (electrophilic aromatic, substitution) में सक्रियता नाशी (deactivating) होते हैं, वही समूह नाभिक स्नेही एरोमैटिक प्रतिस्थापन में सक्रियता वर्धक (activating) होते हैं। यह प्रभाव प्रबल इलेक्ट्रॉन निकासी (strongly electron withdrawing) समूहों के लिये अधिक प्रभावी होता है जब ये समूह निकलने वाले समूह (deaving group) की o- अथवा P- स्थिति पर होते हैं। . द्वितीय पद के होने के लिये यह आवश्यक है कि निकलने वाले समूह (leaving group) को वलय के साथ बन्धित (Bonding) करने वाले इलेक्ट्रॉन समूह के साथ ही निकल जायें, न कि वलय के निकाय Esystem) का भाग बने रहें।
ocr_image
निम्नलिखित यौगिकों में से कौन ArSN2 अभिक्रिया के लिये सर्वाधिक क्रियाशील है?

A

ocr_image

B

ocr_image

C

ocr_image

D

ocr_image

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:C

|
Updated on:21/07/2023

Similar Questions