Doubtnut Promotions Sticky

निश्चित ताप पर अभिक्रिया 2A(g)B(g)+3C(g) के लिए Kc = 16 है। यदि साम्य पर मिश्रण में A,B व C प्रत्येक के 2 मोल उपस्थित हों तो फ्लास्क का आयतन है:

A

14

B

12

C

1

D

इनमें से कोई नहीं

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B

|
Updated on:21/07/2023

Similar Questions


Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    अभिक्रिया A(g)=B(g)C(g) के लिए Kc और Kp के बीच संबंध है:

    AKp=Kc[RT]1
    BKp.K1c=RT
    CKcK1p=RT
    DKp=Kc[RT]3
  • Question 2 - Select One

    एक निश्चित ताप पर, एक अभिक्रिया A+B2C के लिए साम्यावस्था स्थिरांक 81 पाया गया। प्रारंभ में A के 1 मोल और B के 1 मोल के साथ, साम्यावस्था पर C के मोल प्रभाज कितने होंगे?

    A911
    B111
    C211
    D711
  • Question 3 - Select One

    अभिक्रिया AB(g)<A(g)+B(g) के लिए, कुल दाब p पर AB, 33% वियोजित होता है। तब:

    Ap=KP
    Bp=4Kp
    Cp=3Kp
    Dp=8Kp