Doubtnut Promotions Sticky

300 K पर हो रही निम्नलिखित अभिक्रिया का संज्ञान ले।
C6H6(l)+152O2(g)6CO2(g)+3H2O(l),ΔH=3271kJ
27 पर 1.5 मोल बेन्जीन के दहन के लिए ΔU का मान क्या है?

A

3267.25 किलोजूल

B

4900.88 किलोजूल

C

4906.5 किलोजूल

D

3274.75 किलोजूल

Text Solution
Verified by Experts

The correct Answer is:B


1 मोल बैन्जीन के दहन के लिए
Δng=1.5
ΔH=ΔU+ΔngRT
3271=ΔU1.5×8.314×3001000
ΔU=3267.25 किलोजूल
1.5 मोल बैन्जीन के दहन के लिए
ΔU=3267.25×1.5
=-4900.88 किलोजूल

|
Updated on:21/07/2023

Similar Questions


Knowledge Check

  • Question 1 - Select One

    निम्न अभिक्रिया के लिए अवकल दर नियम है
    4NH3(g)+5O2(g)4NO(g)+6H2O(g)

    Ad[NH3]dt=d[O2]dt=d[NO]dt=d[H2O]d
    Bd[NH3]dt=d[O2]dt=14d[NO]dt=16d[H2O]d
    C14d[NH3]dt=15d[O2]dt=14d[NO]dt=16d[H2O]d
    D14d[NH3]dt=15d[O2]dt=14d[NO]dt=16d[H2O]d
  • Question 2 - Select One

    800 K पर निम्नलिखित अभिक्रिया के लिए साम्यावस्था स्थिरांक KC=4 है, NH3(g)<12N2(g)+32H2(g) निम्नलिखित अभिक्रिया के लिए Kp का मान होगा:
    N2(g)+3H2(g)<2NH3(g)

    A(800R4)2
    B16×(800R)2
    C[14×800R]2
    D(800R)1/24
  • Question 3 - Select One

    एक ईंधन सेल में 1 atm और 298 K पर ब्यूटेन का दहन शामिल है,
    C4H10(g)+132O2(g)4CO2(g)+5H2O(l)
    ΔG=2746kJ/mol
    सेल का E क्या है?

    A+4.74V
    B+0.547V
    C+1.09V
    D+4.37V