logo
search
search
user
login
Login
HomeHindiकक्षा 12PhysicsChapterसमतल पृष्ठों पर अपवर्तन

वायु में रखे एक काँच के प्रिज्...

वायु में रखे एक काँच के प्रिज्म का mu = 1.5 और A = 60^(@) है। आपतन कोण के मानों का परास निकालें जिसके लिए निर्गत किरण का होना संभव है।

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 1-12-2020

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

4.2 K+

3.6 K+

check-circle

लिखित उत्तर

Solution :
निर्गत किरण होने के लिए `r_(2)` का मान काँच से हवा में अपवर्तन के लिए क्रांतिक कोण `i_(C )` से कम होना चाहिए। <br> यहाँ `sin i_(C ) = ( 1) /( mu ) = ( 1)/( 1.5) = 0.6666` या `i_(C ) = 418^(@)` <br> इस प्रकार `r_(2) , 0^(@)` और `41.8^(@) ` के बीच है। <br> जब `r_(2) = 41.8^(@)` हो, तो `r_(1) = 60^(@) - 41.8^(@) = 18.2^(@)` <br> क्योंकि `mu = ( sin i_(1))/( sin r_(1))` ,इसलिए `sin i_(1) = mu sinr_(1)` <br> या `sin i_(1) = 1.5 sin 18.2 ^(@) = 1.5 xx 0.3123 = 0.4885` <br> <br> जहाँ से `i_(1) = 28^(@)` <br> जब `r_(2) = 0^(@)`, तो `r_(1) = 41.8^(@)` जहाँ से `i_(1) = 90^(@ ** **)` <br> इस प्रकार आपतन किरण ,`28^(@)` और ` 90^(@)` के परास में होनी चाहिए।

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details