logo
search
search
user
login
Login
HomeHindiकक्षा 12PhysicsChapterनाभिकीय भौतिकी

किसी रेडियोएक्टिव प्रक्रम में ...

किसी रेडियोएक्टिव प्रक्रम में माना कोई नाभिक A अक्षांक lamda_(A) के साथ किसी अन्य नाभिक B में बदल रहा है । नाभिक B स्वंय भी रेडियोएक्टिव है तथा क्षयांक lamda_(B) के साथ एक अन्य नाभिक C में बदल रहा है । माना लीजिए किसी समय t पर A व B के नाबिकों की संख्या N_(A) तथा N_(B) हैं । वह प्रतिबंध ज्ञात कीजिए जब B के परमाणुओं की संख्या नियत हो जाती है ।

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.
Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

1.6 K+

600+

check-circle

लिखित उत्तर

Solution :
किसी अल्प समय अन्तराल t से t + dt के मध्य मूल नाभिक A के क्षय होने वाले नाभिकों की संख्या `lamda_(A) N_(A)`dt होगी । यह इस अन्तराल में उत्पन्न होने वाले संतति (daughter) नाभिकों B की उत्पत्ति की संख्या भी होगी । B से C में क्षय के कारण इसी समय अन्तराल में B के क्षयति नाभिकों की संख्या `lamda_(B)N_(B)dt` होगी नाभिक B के नाभिकों की संख्या नियम होगी यदि इनकी उत्पत्ति की दर इनके क्षय की दर के बराबर हों , अर्थात् <br> `lamda_(A)N_(A) dt = lamda_(B) N_(B) dt` <br> या `lamda_(A) N_(A) = lamda_(B) N_(B)`

संबंधित उत्तर

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details