logo
search
search
user
login
Login

किसी परमाणु की त्रिज्या से सम्बन्धित सिद्धान्त बताइए जब यह : <br> (a) इलेक्ट्रॉन ग्रहण करता है (b) इलेक्ट्रॉन त्यागता है।

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 26-11-2020

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

1.0 K+

45

check-circle

लिखित उत्तर

Solution :
(a) जब कोई परमाणु इलेक्ट्रॉन ग्रहण करता है - यह ऋणायन में बदल जाता है `(M+e^(-) to M^(-))` । ऐसा करने से आकार में वृद्धि हो जाती है। वास्तव में परमाणु क्रमांक या नाभिकीय आवेश में कोई परिवर्तन नहीं होता है परन्तु इलेक्ट्रांस में एक की वृद्धि हो जाती है। परिणामस्वरूप इलेक्ट्रॉन नाभिक की ओर कम आकर्षण अनुभव करते हैं तथा ऋणायनिक त्रिज्या या आकार बाद जाता हैं। उदाहरण के लिए F परमाणु की त्रिज्या `(72pm)F^(-)` आयन `(136pm)` की अपेक्षा कम होती हैं। <br> (b) जब कोई परमाणु इलेक्ट्रॉन त्यागता है - यह एक धनायन में बदल जाता है `(M to M^(+)+e^(-))` | ऐसा करने में आकार घट जाता है। इस स्थिति में नाभिकीय आवेश समान रहता है परन्तु इलेक्ट्रांस में एक की कमी हो जाती है। परिणामस्वरूप इलेक्ट्रांस नाभिक की ओर अधिक आकर्षण का अनुभव करते है तथा धनायनिक त्रिज्या घट जाती है। उदाहरण के लिए, Na परमाणु की त्रिज्या `(157pm) Na^(+)` आयन की अपेक्षा अधिक `(95pm)` होती है।

संबंधित वीडियो

play
94844805

2.6 K+

53.2 K+

play
223424662

2.3 K+

45.3 K+

2:52
play
364568513

4.3 K+

7.2 K+

1:25
play
54862521

1.4 K+

27.9 K+

9:40
play
466358948

2.0 K+

39.8 K+

3:55
play
407372252

231.1 K+

479.3 K+

2:01
play
226118576

6.0 K+

119.3 K+

1:58
play
645691059

200+

5.0 K+

3:25
play
234315517

5.9 K+

11.0 K+

1:45
play
67773894

3.2 K+

63.5 K+

2:19
play
358825634

60

9.5 K+

5:40
play
226118510

6.7 K+

134.1 K+

4:22
play
432600195

31.4 K+

61.5 K+

4:54
play
306956220

4.4 K+

87.7 K+

4:57
play
334964679

10.8 K+

216.2 K+

5:41

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details