logo
search
search
user
login
Login

Home

>

Hindi

>

कक्षा 11

>

Physics

>

Chapter

>

तरंगे

>

एक स्वरित्र की आवृति 256 कम्...

एक स्वरित्र की आवृति 256 कम्पन/सैकण्ड है | जब एक अन्य स्वरित्र को इसके साथ बजाया जाता हें, तो 3 विस्पंद प्रति सेकंड सुनाई देते हैं | अब यदि दूसरे स्वरित्र की एक भुजा पर थोडा सा मोम चिपका दिया जाए, तो पुनः इन दोनों स्वरित्र को एक साथ बजाने पर 5 विस्पंद प्रति सेकंड सुनायी देते हैं | बताइए कि दूसरे स्वरित्र की आवृत्ति क्या हैं ?

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 7-4-2020

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

700+

38

check-circle

लिखित उत्तर

Solution :
प्रश्नानुसार , पहले स्वरित्र को आवृत्ति `n_1 = 256` कम्पन/सेकण्ड है । माना दूसरे स्वरित्र की आवृत्ति `n_2` है, तो विस्पन्दो की संख्या `x=n_1 - n_2` <br> अतः दुसरे स्वरित्र की आवृति `n_2 = n_1 pm x = 256 pm 3` <br> 259 या 235 कम्पन /सेकंड <br> चूँकि दूसरे स्वरित्र पर मोम लगाने से इसकी आवृत्ति कम हो जाएगी, अत: अब विस्पंदों की संख्या बढने का तात्पर्य हें कि `n_1` से अन्तर बढता है, अर्थात् दूसरे स्वरित्र की आवृत्ति मोम लगाने से पूर्व `n_1 - x` अर्थात् 253 कम्पन /सेकण्ड होनी चाहिए

संबंधित वीडियो

play
320058672

16.1 K+

322.0 K+

4:34
play
306255933

93

137.3 K+

5:33
play
320059350

15.0 K+

300.2 K+

2:10
play
226118772

5.5 K+

110.2 K+

3:15
play
334964512

1.6 K+

61.3 K+

3:50
play
408035113

100+

14.6 K+

2:10
play
226118525

29.2 K+

113.6 K+

4:21
play
306956215

1.7 K+

33.8 K+

1:27
play
127305133

147.3 K+

245.6 K+

2:10
play
334963624

1.9 K+

18.3 K+

3:14
play
306255924

600+

94.1 K+

3:50
play
306255921

600+

8.6 K+

2:59
play
408042247

5.3 K+

42.1 K+

2:10
play
226112699

7.1 K+

141.2 K+

13:36
play
320057496

1.7 K+

34.1 K+

4:59

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details