logo
search
search
user
login
Login
HomeHindiकक्षा 12PhysicsChapterतरंग प्रकाशिकी

एक समतल ध्रुवित प्रकाश पुंज 3x...

एक समतल ध्रुवित प्रकाश पुंज 3xx10^(-4) "मी"^2 अनुप्रस्थ-काट के क्षेत्रफल वाले ध्रुवक पर अभिलम्बत् आपतित होता है। आपतित प्रकाश की ऊर्जा का फ्लक्स 10^(-3) वाट है। यदि ध्रुवक 31.4 रेडियन/से की कोणीय आवृत्ति से घूर्णन करता है, तो ध्रुवक से प्रतिचक्कर निकलने वाले प्रकाश की ऊर्जा होगी

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 18-2-2021

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

1.3 K+

65

check-circle

लिखित उत्तर

`10^(-4)``10^(-3)``10^(-2)``10^(-1)`

Answer :
A
Solution :
मैलस के नियम से, <br> `l=l_0 cos^2 theta` <br> चूँकि यहाँ ध्रुवक घूर्णन कर रहा है, अर्थात् `theta` के सभी मान सम्भव हैं। <br> `l_(av)=1/(2pi) int_0^(2pi) ld theta =1/(2pi) int_0^(2pi) l_0 cos^2 theta d theta` <br> समाकलन करने पर प्राप्त होता है `l_(av)=l_0/l` <br> अर्थात् `l_0="ऊर्जा"/"क्षेत्रफल x समय"=P/A=10^(-3)/(3xx10^(-4))="10 वाट"/"3 मी"^2` <br> `l_(av)=1/2 xx10/3 =5/3` वाट <br> एवं आवर्तकाल `T=(2pi)/omega=(2xx3.14)/31.4 =1/5` सेकण्ड <br> `therefore` ध्रुवक से प्रतिघूर्णन प्रवाहित ऊर्जा <br> =`l_(av)` x क्षेत्रफल x T=`5/3xx3xx10^(-4)xx1/5` <br> `=10^(-4)` सेकण्ड

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details