logo
search
search
user
login
Login

Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Physics

>

Chapter

>

स्थिर विद्युत विभव तथा धारिता

>

दो आवेशित चालकों, जिनकी धारिता...

दो आवेशित चालकों, जिनकी धारिताएं क्रमश: C_(1) एवं C_(2) तथा विभव क्रमश: V_(1) एवं V_(2) है, तार द्वारा जोड़ा गया है। इनका उभयनिष्ठ विभव तथा संयोजन में ऊर्जा हानि की गणना कीजिये।

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 26-3-2020

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

8.9 K+

400+

check-circle

लिखित उत्तर

Solution :
(a) पुनर्वितरण से पहले, (b) पुनर्वितरण के बाद <br> <img src="https://d10lpgp6xz60nq.cloudfront.net/physics_images/PRB_HIN_PHY_XII_SP_C02_E03_002_S01.png" width="80%"> <br> माना चित्र (a) के अनुसार, दो विलगित चालक A और B है जिनकी धारिताएं क्रमश `C_(1)` व `C_(2)` है। इन चालकों को क्रमश `Q_(1)` व `Q_(2)` आवेश देने पर विभव `V_(1)` व `V_(2)` हो जाते है। अब यदि दोनों आवेशित चालकों को चित्र (b) के अनुसार एक चालकीय तार से जोड़ दिया जाता है, तो आवेश अधिक विभव वाले चालक से कम विभव वाले चालक की और प्रवाहित होने लगता है यह प्रवाह तब तक जारी रहता है जब एक उनका विभव समान नहीं हो जाता है, किन्तु दोनों चालकों को कुल आवेश नियम रहता है। माना कि पुनर्वितरण के बाद प्रथम चालक A में आवेश `Q'_(1)` तथा दूसरे चालक B में आवेश `Q'_(2)` हो जाता है। <br> पुनर्वितरण से पहले- <br> चालक A पर आवेश `Q_(1) = C_(1)V_(1)`, <br> चालक B पर आवेश `Q_(2) = C_(2)V_(2)` <br> चालक A पर विभव `V_(1) = Q_(1)//C_(1)` <br> चालक B पर विभव `V_(2) = Q_(2)//C_(2)`, <br> दोनों चालकों का कुल आवेश `Q = Q_(1) + Q_(2)` <br> दोनों चालकों की कुल ऊर्जा <br> `U = (1)/(2) C_(1)V_(1)^(2) + (1)/(2) C_(2) V_(2)^(2)`....(1) <br> पुनर्वितरण के बाद - दोनों चालकों की संयुक्त धारिता <br> `C = C_(1) + C_(2)` <br> दोनों चालकों का उभयनिष्ठ विभव <br> `V = ("कुल आवेश")/("कुल धारिता")` <br> `V = (Q_(1) + Q_(2))/(C_(1) + C_(2)) = (C_(1) V_(1) + C_(2)V_(2))/(C_(1) + C_(2))`...(2) <br> दोनों चालकों की कुल प्रारंभिक ऊर्जा <br> `U = (1)/(2) (C_(1) + C_(2)) V^(2)`.....(3) <br> दोनों चालकों को जोड़ने के उपरांत ऊर्जा <br> `U' = (1)/(2) C_(1) V_(1)^(2) + (1)/(2) C_(2)V_(2)^(2) = (1)/(2) (C_(1) + C_(2)) V^(2)` <br> `= (1)/(2) (C_(1) + C_(2)) [(C_(1) V_(1) + C_(2) V_(2))/(C_(1) + C_(2))]^(2)`.....(4) <br> अत: दोनों आवेशित चालकों को जोड़ने पर ऊर्जा में परिवर्तन <br> `= U - U'` <br> `= (1)/(2) C_(1) V_(1)^(2) + (1)/(2) C_(2) V_(2)^(2) - (1)/(2) (C_(1) + C_(2)) [(C_(1) V_(1) + C_(2) V_(2))/(C_(1) + C_(2))]^(2)` <br> `= (1)/(2) [((C_(1) V_(1)^(2) + C_(2) V_(2)^(2)) (C_(1) + C_(2)) - C_(1)^(2) V_(1)^(2) - C_(2)^(2) V_(2)^(2) - 2C_(1) C_(2) V_(1) V_(2))/((C_(1) + C_(2)))]` <br> `= (1)/(2(C_(1) + C_(2))) [C_(1)^(2) V_(1)^(2) + C_(1) C_(2) V_(2)^(2) + C_(1) C_(2) V_(1)^(2) + C_(2)^(2) V_(2)^(2) - C_(1)^(2) V_(1)^(2)- C_(2)^(2) V_(2)^(2) - 2C_(1) C_(2) V_(1) V_(2)]` <br> `= (1)/(2(C_(1) + C_(2))) [C_(1) C_(2) V_(2)^(2) + C_(1)C_(2) V_(1)^(2) - 2C_(1) C_(2) V_(1) V_(2)]` <br> `U-U' = (C_(1) C_(2))/(2(C_(1) + C_(2))) [V_(1)^(2) + V_(2)^(2) - 2V_(1) V_(2)]` <br> `= (C_(1) C_(2) (V_(1) - V_(2))^(2))/(2(C_(1) + C_(2)))`...(5) <br> चूँकि `(V_(1) - V_(2))^(2)` धनात्मक राशि है। अत: `U - U'` धनात्मक होगा। <br> जिससे यह स्पष्ट है की आवेश के पुनर्वितरण से सदैव ऊर्जा हानि होती है। यह ऊर्जा हानि जोड़ने वाले तार में ऊष्मा, कभी-कभी प्रकाश या चिंगारी, ध्वनि के रूप में होती है।

check-circle

चित्र समाधान

Find answer in image to clear your doubt instantly:

संबंधित वीडियो

play
291492491

600+

12.7 K+

6:31
play
226117784

8.5 K+

17.3 K+

3:50
play
306956233

2.0 K+

40.4 K+

2:30
play
306954418

6.6 K+

48.5 K+

2:30
play
58124390

7.5 K+

153.5 K+

5:04
play
237143603

9.9 K+

11.1 K+

14:32
play
23273671

1.4 K+

28.3 K+

2:37
play
226117765

20.5 K+

416.9 K+

7:52
play
306960098

1.6 K+

32.3 K+

3:32
play
226112720

5.5 K+

113.2 K+

9:22
play
320053455

3.4 K+

72.8 K+

5:07
play
306960125

1.8 K+

37.2 K+

2:14
play
306960379

20.7 K+

23.6 K+

2:37
play
320058206

1.6 K+

32.2 K+

3:38
play
265956562

500+

11.0 K+

7:56

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details