logo
search
search
user
login
Login
HomeHindiकक्षा 12PhysicsChapterElectro Magnetic Induction

चित्र में दर्शाए गये परिपथ में...

चित्र में दर्शाए गये परिपथ में समय t = 0 पर बिन्दु A स्विच द्वारा बिन्दु B से जोड़ा जाता है। इससे परिपथ में एक प्रत्यावर्ती धारा I(t) = I_0 cos (omegat) चित्र में दिखाई गई दिशा में बहने लगती है, जहाँ I_0 = 1A तथा omega= 500 "rad s"^(-1) समय t = (7pi)/(6omega) पर स्विच को बिन्दु B से हटाकर बिन्दु D से जोड़ा जाता है। इसके पश्चात् सिर्फ A व D जुड़े हुए हैं। संधारित्र को पूरी तरह आवेशित करने लिए बैटरी से कुल आवेश Qप्रवाहित होता है। यदि C = 20 muF, R= 10Omega तथा बैटरी 50V विधुत वाहक बल वाली आदर्श बैटरी हो तब सही विकल्प/विकल्पों को चुनिए। <br> <img src="https://doubtnut-static.s.llnwi.net/static/physics_images/BNS_JMA_HIN_PHY_C06_E04_022_Q01.png" width="80%">

check-circle

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Updated On: 23-5-2021

Apne doubts clear karein ab Whatsapp par bhi. Try it now.
CLICK HERE

Loading DoubtNut Solution for you

Watch 1000+ concepts & tricky questions explained!

500+

27

check-circle

लिखित उत्तर

संधारित्र पर समय `t=(7pi)/(6omega)` से पहले अधिकतम आवेश का परिमाण `1 xx 10^(-1)C` है।बाएँ परिपथ में समय `t=(7pi)/(6omega)` से ठीक पहले विधुत धारा दक्षिणावर्ती (clockwise) है। बिन्दु A को बिन्दु D से जोड़ने के तुरन्त पश्चात् प्रतिरोध R में विधुत धारा का मान 10A है।`Q=2xx 10^(-3)C`

Answer :
C::D

बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न

bottom open in app
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details