Login
HomeHindiकक्षा 12BiologyChapterमानव स्वास्थ्य और रोग

प्रतिरक्षी प्रतिक्रिया क्या ...

Question : प्रतिरक्षी प्रतिक्रिया क्या होती है ? जन्मजात एवं ग्राहीत ( acquired ) प्रतिरक्षा की क्रियाविधियाँ समझाइए ।

Updated On: 17-04-2022

Video Solution: प्रतिरक्षी प्रतिक्रिया क्या होती है ? जन्मजात एवं ग्राहीत ( acquired ) प्रतिरक्षा की क्रियाविधियाँ समझाइए ।

Get Answer to any question, just click a photo and upload the photo
and get the answer completely free,
UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

उत्तर

Step by step video solution for "प्रतिरक्षी प्रतिक्रिया क्या होती है ? जन्मजात एवं ग्राहीत ( acquired ) प्रतिरक्षा की क्रियाविधियाँ समझाइए ।" by Biology experts to help you in doubts & scoring excellent marks in Class 12 exams.

Transcript

हेलो एवरीवन हमसे पूछा गया प्रतिरक्षी प्रक्रिया क्या होती है ठीक है जन्मजात में ग्राही रिक्वायर्ड प्रतिरक्षा की क्रिया विधि समझाइए ठीक है अब हम स्टार के बात करते हैं प्रतिरक्षी प्रक्रिया का मतलब है प्रतिरक्षी तंत्र से ठीक है ठीक है अब समझते हैं यह क्या होता है यह हमारे शरीर की भारी अनु यह जीवाणु यह वायरस से सुरक्षा करती है ठीक है अब आगे बात करते हैं जब हमारे शरीर में कोई बाहरी अनु यह जीवाणु प्रवेश करता है तो उसे प्रतिजन कहते हैं ठीक है या एंटीजन कहते हैं इसके विपरीत हमारे शरीर में एंटीबॉडी या प्रतिरक्षी बनती है ठीक है इसे हम कह सकते हैं कि यह प्रतिजन के विपरीत कार्य करती है इसे हम समझते हैं कैसे मान लीजिए

यह प्रतिजन है या वायरस है जो हमारे शरीर में प्रवेश कर गया है ठीक है तो इसके विपरीत हमारे शरीर में एक एंटीबॉडी बनेगी ठीक है और वह इस ताकत बंद हो जाएगी ठीक है जैसे चाबी ताले से जाकर बैंड हो जाती है बंद जाती है ठीक है यह एक प्रोटीन की बनी होती है इसका कायदे क्या होता है यह एंटीजन यानी के वायरस को किल कर देती है ठीक है या मार देती है जिससे हमारे शरीर की रक्षा होती है इसी पूरी विधि को एवं प्रतिरक्षी प्रक्रिया कहते हैं ठीक है अब आगे बात करते हैं तो पहले हम बात करते हैं जन्मजात के बारे में जन्मजात जन्मजात प्रतिरक्षी क्या होती हैं ठीक है यह हमें जन्म से मिलती हैं या क्या सपने में माता पिता के द्वारा हमारे शरीर में आती हैं ठीक है इन्हें भीम दो जगह बांट सकते हैं तो हमने जन्मजात को यहां

दो जगह बैठ जाए के बाहरी कवच ठीक है और एक या आंतरिक सुरक्षा कवच ठीक है अब इन दोनों के बारे में बात करते हैं पहले बात करेंगे बाहरी कवच के बारे में इसमें पहले आती है MP3 लिए तो अच्छा ठीक है इस पर आकर हमारे बाहरी अनु यानी के जीवाणु या वायरस चिपकने हैं ठीक है और जो त्वचा है यह बार-बार नहीं बनती रहती है टूट कर ठीक है टूट कर नहीं बनती है इसका क्या होता है वह जवानी भी हट जाते हैं ठीक है और अब आगे बात करते हैं तब से हमें हमारी कुछ ग्रंथियां होती है जैसे तेल ग्रंथि और और हमारी आंखें होती है जैसे आशु या फिर बनती है ठीक है यह क्या करती हैं तेल ग्रंथियों वायरस को यह जीवाणु को मार देती हैं ठीक है इनसे एक तेल से प्रभावित होता है

जो जीवाणुओं को मार देता है ठीक है अब आगे चलते हैं आ गए आंसू यह शुरू ग्रंथि ठीक है इसमें लाइसेंस लाइसेंस एंजाइम पाया जाता है ठीक है यह क्या करता है यह बैक्ट्रिया कोकिल कर देता है या मार देता है अब आगे बात करते हैं अगर इस बैरियर को एक कवच को तोड़ कर कोई जीवाणु या वायरस हमारे शरीर में अंदर प्रवेश कर जाता है तो हमारा अंतरिक्ष आंतरिक सुरक्षा कवच एक्टीविया सक्रिय हो जाता है ठीक आप इसके बारे में बात करते हैं आते हैं हमारे मुख और नासिका इसमें क्लास ल सा पदार्थ होता है सॉरी लक्ष्य सा पदार्थ होता है जो विकास के समान चिपचिपा होता है ठीक है इसमें जीवाणु को मारने की ताकत होती है ठीक है

अब आगे बात करते हैं आंतरिक sax3 आंतरिक सुरक्षा कवच में भक्षण कोशिकाएं भी पाई जाती है ठीक है इनका कार्य क्या होता है यह डब्ल्यूसीएल की बनी होती है ठीक है डब्ल्यूबीसीएल की बनी होती ब्लड कोशिकाएं की बनी होती है ठीक है जब फोन पार्टिकल जैसे कि जीवाणु हमारे शरीर में प्रवेश कर जाता है तो यह वाइट ब्लड सेल आती है ठीक है और इनमें सूट फॉर डियर नामक चयन प्रक्रिया होती है ठीक है यहां से की भुजा निकलती है जो जीवाणु यशू संजीव को अपने अंदर खींच लेती है ठीक है इसके अंदर लाइसेज एंजाइम बनता है ठीक है यह क्या करता है यह दीवानी को मार देता है ठीक है और जो बचा हुआ पदार्थ है वह यहां से बाहर

निकल जाता है यह मृत कोशिकाएं बाहर निकल जाती है ठीक है अब आगे बात करते हैं फिर इसमें अगला पार्ट आता है या अगला नंबर आता है प्राकृतिक अत्याधिक कोशिका यानी कि नेचुरल किलर सेल का ठीक है यह कोशिकाएं क्या करती है यह कोशिकाएं ग्लाइकोप्रोटीन का श्रावण करती हैं ठीक है यह विश्व संजीव को मारने में कामगार होता है ठीक है अब आगे बात करते हैं आगे बात है अब नंबर आता है सूजन या इन्फ्लेमेशन ठीक है इसमें क्या होता है फिजिकल केमिकल रसायन की वजह से या चोट लगने से हमारे शरीर में भी जगह चोट लगती है उस जगह सूजन आ जाती है ठीक है सो जा सो जा 9:00 से होता क्या है वहां पर आरबीसी कोशिकाएं या लाल रक्त कणिकाएं इकट्ठे हो जाते हैं ठीक है

जब चोट खाली स्थान पर लाल कोशिकाएं इकट्ठा हो जाएंगे अधिक संख्या में वहां पर आकर जनजातियां तो क्या होगा वहां पर गर्मी बढ़ जाती है ठीक है पैसे वहां पर जो स्थान है वह सोच कर मोटा हो जाता है ठीक है तो अब होगा क्या देखते हैं तो इससे मोहब्बत न्यूट्रॉफिल ठीक है न्यूट्रोफिल और मोनू फिर ठीक है मोनोफिल कोशिकाओं की संख्या बढ़ जाती है ठीक है यह कोई सीखा है क्या करती है यह से कोसाइट्स इसमें मदद करती हैं या भक्षण में मदद करती हैं इससे वहां पर उपस्थित जीवाणु या माइक्रो या सुशील जी खत्म हो जाएंगे ठीक है अब आगे बात करते हैं अब अगला

नंबर आता है जो बकाया बुखार का कई बार क्या होता है जो हमारे शरीर में जीवाणुओं में वायरस प्रवेश करते हैं तो हमारे शरीर का ताप बढ़ जाता है ऐसे तो हमारे शरीर का सामान्य ताप 37 डिग्री सेंटेड या 984 नाईट होता है ठीक है जब इससे ज्यादा हमारे शरीर का ताप मर जाता है तो इसे कहा जाता है ठीक है इसका क्या फायदा है कि हमारे शरीर का ताप पड़ता है तो इससे हमारे शरीर में उपस्थित कई प्रकार के ससुर जी मर जाते हैं ठीक है अब आगे बात करते हैं यह जो पूरी प्रक्रिया है इसे हम जन्मजात प्रतिरक्षी तंत्र कहते हैं अब आगे बात करेंगे रिक्वायर्ड ठीक है या ग्राहक तंत्र के बारे में ठीक है यह प्रतिरक्षी जन्मजात नहीं होती है समय के साथ हमारे शरीर में ग्राही तैयार किए जाते हैं या अपना ली जाती है ठीक है अभी से समझेंगे इसमें क्या होता है

जब कोई रोका ना आकर हमारे शरीर में पहली बार प्रवेश करता है तो इसके लिए हमारे शरीर में एंटीबॉडी है प्रतिरक्षी का निर्माण होता है ठीक है तो फिर क्या होता है यह एंटीबॉडी जाकर उसको गानों या प्रतिजन से चिपक जाती है ठीक है तो क्या होगा एंटीबॉडीज पढ़ते-पढ़ते जान को मार देती हैं ठीक है अगर यदि भविष्य में यही एंटीजन या प्रतिजन आकर हमारे शरीर में प्रवेश करें तो हमारे शरीर में किस मृत कोशिकाएं भी होती हैं ठीक है उनकी मदद से यही एंटीबॉडी द्वारा बनेंगे और इस प्रति जनिया लोगों को नष्ट कर देंगे ठीक है ऐसी ही प्रतिक्रिया को गिरा हित प्रतिरक्षी कहते हैं क्योंकि यह हमारे शरीर में जन्मजात नहीं होती यह समय के साथ हमारे शरीर में

हो जाती है ठीक है ओके थैंक यू

Question Details till 20/05/2022

Questionप्रतिरक्षी प्रतिक्रिया क्या होती है ? जन्मजात एवं ग्राहीत ( acquired ) प्रतिरक्षा की क्रियाविधियाँ समझाइए ।
Chapter Nameमानव स्वास्थ्य और रोग
SubjectBiology (more Questions)
Class12th
Type of AnswerVideo
Question Language
In Video - Hindi
In Text - Hindi
Students Watched8.2 K+
Students Liked6.3 K+
Question Video Duration9m4s
By using this site you agree to the use of cookies. Check our Cookie Policy for more details