doubtnut_header_logo_white_new

298 K ताप पर अभिक्रिया CO(g)+H2O(g)<CO2(g)+H2(g) के लिए साम्य स्थिरांक (K)=1.06×105 है तो इस अभिक्रिया के लिए मानक मुक्त ऊर्जा परिवर्तन की गणना कीजिये।

लिखित उत्तर

Solution
हम जानते हैं कि ΔG=2.303RTlogK
R=8.314Jmol1
T=298K,K=1.06×105
ΔG=2.303×8.314×298
log1.06×105
=5705.84(log1.06+5log10)
=5705.84(0.0253+5)
=5705.84×5.0253
=28673.55
=28.67kJ
adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased
संबंधित वीडियो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि 298 K पर DeltaG^(0) का मान -212.3 kJ है तो सेल के साम्य स्थिरांक की गणना कीजिए।

309497373

8.1K03:12

यदि 298 K पर DeltaG^(0) का मान -212.3 kJ है तो सेल के साम्य स्थिरांक की गणना कीजिए।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक फलन g जो प्रत्येक वास्तविक संख्या x>0 के लिए परिभाषित है तथा g(1)=1,g'(x2)=x3 को सभी x>0 के लिए सन्तुष्ट करता है, तो g (4) का मान है

358827611

2.2K04:50

एक फलन g जो प्रत्येक वास्तविक संख्या x>0 के लिए परिभाषित है तथा g(1)=1,g'(x2)=x3 को सभी x>0 के लिए सन्तुष्ट करता है, तो g (4) का मान है
doubtnut_header_logo_white_new
TEXT SOLUTION
इस अभिक्रिया के लिए 800 K पर Ke = 4.24 है -
CO(g)+H2O(g)CO2(g)+H2(g)
800 K पर CO2 एवं H2O तथा H2O के साम्य पर सांद्रताओं की गणना कीजिए, यदि प्रारंभ में केवल CO तथा H2O ही उपस्थित हों तथा प्रत्येक की सांदता 0.1M हो।

505778464

9.9K

इस अभिक्रिया के लिए 800 K पर Ke = 4.24 है -
CO(g)+H2O(g)CO2(g)+H2(g)
800 K पर CO2 एवं H2O तथा H2O के साम्य पर सांद्रताओं की गणना कीजिए, यदि प्रारंभ में केवल CO तथा H2O ही उपस्थित हों तथा प्रत्येक की सांदता 0.1M हो।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
CO2(g),CO(g) तथा H2O (g) के लिये ΔHf क्रमश: - 393.5,-110.5 तथा-241.8 kJ/mol है। तो निम्न क्रिया के लिये CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g) मानक ऐन्थैल्पी परिवर्तन होगा

371317800

1.2K04:49

CO2(g),CO(g) तथा H2O (g) के लिये ΔHf क्रमश: - 393.5,-110.5 तथा-241.8 kJ/mol है। तो निम्न क्रिया के लिये CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g) मानक ऐन्थैल्पी परिवर्तन होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
इस अभिक्रिया में
CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g),ΔH=80kJ
ΔH को कहा जाता है

559602817

8.1K02:16

इस अभिक्रिया में
CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g),ΔH=80kJ
ΔH को कहा जाता है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
CO(g),CO2(g) तथा H2O(g) की सम्भवन उष्माये क्रमशः 25.7,93.2 तथा 56.4 किलो - कैलोरी/मोल है निम्न रासायनिक अभिक्रिया की ऊष्मा की गणना कीजिए
CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g)

94846287

7.1K04:04

CO(g),CO2(g) तथा H2O(g) की सम्भवन उष्माये क्रमशः 25.7,93.2 तथा 56.4 किलो - कैलोरी/मोल है निम्न रासायनिक अभिक्रिया की ऊष्मा की गणना कीजिए
CO2(g)+H2(g)CO(g)+H2O(g)
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
. एक आभाक्रया के लिए सक्रियण ऊर्जा का मान शून्य है। यदि 280 K पर दर स्थिरांक का मान 1.6 x 10^(6) s^(-1) हो तो 300 K पर दर स्थिरांक के मान की गणना कीजिए।

309497648

6K01:56

. एक आभाक्रया के लिए सक्रियण ऊर्जा का मान शून्य है। यदि 280 K पर दर स्थिरांक का मान 1.6 x 10^(6) s^(-1) हो तो 300 K पर दर स्थिरांक के मान की गणना कीजिए।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
1 atm और 298 K पर साम्य H2O(l)H2O(g) के लिए

559603756

8K04:33

1 atm और 298 K पर साम्य H2O(l)H2O(g) के लिए
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
निम्नलिखित में से प्रत्येक साम्य में जब आयतन बढ़ाकर दाब कम किया जाता है, तब बतलाइये की अभिक्रिया के उत्पादों के मोलों की संख्या बढ़ती है या घटती है या समान रहती है?
(a) PCl5(g)<PCl3(g)+Cl2(g)
(b) CaO(s)+CO2(g)<CaCO3(g)
( c) 3Fe(s)+4H2O(g)<Fe3O4(s)+4H2(g)

94847072

2.2K10:25

निम्नलिखित में से प्रत्येक साम्य में जब आयतन बढ़ाकर दाब कम किया जाता है, तब बतलाइये की अभिक्रिया के उत्पादों के मोलों की संख्या बढ़ती है या घटती है या समान रहती है?
(a) PCl5(g)<PCl3(g)+Cl2(g)
(b) CaO(s)+CO2(g)<CaCO3(g)
( c) 3Fe(s)+4H2O(g)<Fe3O4(s)+4H2(g)
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
फलन y=f(x) के लिए यदि dydx=6(x2)(x3) है तो के ty अधिकतम मान के लिए का x मान ज्ञात कीजिये

293252417

7.7K04:40

फलन y=f(x) के लिए यदि dydx=6(x2)(x3) है तो के ty अधिकतम मान के लिए का x मान ज्ञात कीजिये
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
निम्नलिखित अभिक्रिया के लिए 1024 K पर साम्य स्थिरांक 1.6×105 है
H2(g)+Br2(g)2HBr(g)
यदि HBr 10.0 bar सीलयुक्त पात्र में डाले जाए , तो सभी गैसों के 1024K पर साम्य दाब ज्ञात कीजिए ।

125701943

7.5K06:25

निम्नलिखित अभिक्रिया के लिए 1024 K पर साम्य स्थिरांक 1.6×105 है
H2(g)+Br2(g)2HBr(g)
यदि HBr 10.0 bar सीलयुक्त पात्र में डाले जाए , तो सभी गैसों के 1024K पर साम्य दाब ज्ञात कीजिए ।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
2NH3(g)+CO2(g)NH2CONH2(aq)+H2O(l) 298 K पर उपरोक्त अभिक्रिया के लिए ΔG का मान -13.6 किलजूल मोल1 है साम्य ृतराणक का मान ज्ञात कीजिय |

94846306

0.4K02:05

2NH3(g)+CO2(g)NH2CONH2(aq)+H2O(l) 298 K पर उपरोक्त अभिक्रिया के लिए ΔG का मान -13.6 किलजूल मोल1 है साम्य ृतराणक का मान ज्ञात कीजिय |
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
सिद्ध कीजिये x>0 की के लिए f(x)=1x हस्यमान फलां है।

293252401

3.1K02:27

सिद्ध कीजिये x>0 की के लिए f(x)=1x हस्यमान फलां है।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
माना f(x)={sinxx0ि1cosxx0ि और g(x)=ex तब (gof)(0) है

642681862

7K03:12

माना f(x)={sinxx0ि1cosxx0ि और g(x)=ex तब (gof)(0) है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
माना f(x)={sinxx01cosxx0 और g(x)=ex तब (gof)(0) है

642681676

1.6K01:55

माना f(x)={sinxx01cosxx0 और g(x)=ex तब (gof)(0) है