doubtnut_header_logo_white_new

एक दूरदर्शी के अभिदृश्यक व नेत्रिका की फोकस दूरी क्रमश: F1F2 हैं, तो दूरदर्शी का कोणीय आवर्धन तुल्य होगा।

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

Updated On: 27-06-2022

लिखित उत्तर

A
F1F2
B
F2F1
C
F1F2F1+F2
D
F1+F2F1F2
Answer
The correct Answer is A
Solution
दिया गया है,
f0=F1,fe=F2
.दूरदर्शी के लिए कोणीय आवर्धन,
|M|f0fe=F1F2F1F2

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.
संबंधित वीडियो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
संख्याओं 1 व 64 के मध्य दो गुणोत्तर माध्य क्रमश: क्या होगा?

456495525

9.8K02:45

संख्याओं 1 व 64 के मध्य दो गुणोत्तर माध्य क्रमश: क्या होगा?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
रेखायें l1l2 प्रतिच्छेदी है तो उनके बीच की न्यूनतम दूरी होगी -

234320146

9.1K01:49

रेखायें l1l2 प्रतिच्छेदी है तो उनके बीच की न्यूनतम दूरी होगी -
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि (1+ax)n,(n0) के प्रसार में प्रथम तीन पद क्रमशः 1,6x व 16x2 हों, तो a व n का मान होगा

358824353

9.3K04:05

यदि (1+ax)n,(n0) के प्रसार में प्रथम तीन पद क्रमशः 1,6x व 16x2 हों, तो a व n का मान होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक कण पर लगे समान परिमाण वाले तीन बल संतुलन में हैं, तो उनके बीच व कोण _____ होगा।

431673820

7.6K02:53

एक कण पर लगे समान परिमाण वाले तीन बल संतुलन में हैं, तो उनके बीच व कोण _____ होगा।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
बिंदु P समिष्ट में इस प्रकार है की OP=6 तथा ¯¯¯¯op,OX तथा OY-अक्षो के साथ क्रमश: 4560 के कोण बनता है तो का स्थिति सदिश होगा -

306960098

1.1K03:32

बिंदु P समिष्ट में इस प्रकार है की OP=6 तथा ¯¯¯¯op,OX तथा OY-अक्षो के साथ क्रमश: 4560 के कोण बनता है तो का स्थिति सदिश होगा -
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
किसी त्रिभुज की ऊँचाई और आधार क्रमशः 8 cm व 3 cm हैं, उसका क्षेत्रफल होगा :

408028048

8.8K02:15

किसी त्रिभुज की ऊँचाई और आधार क्रमशः 8 cm व 3 cm हैं, उसका क्षेत्रफल होगा :
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि , y1,y2 क्रमश: परवलय पर P व Q बिन्दुओं की कोटियाँ हैं, एवं y3 इन विन्दुओं पर खींची गयी स्पर्शियों के प्रतिच्छेद बिन्दु की कोटि है, तो

358825642

9.2K04:02

यदि , y1,y2 क्रमश: परवलय पर P व Q बिन्दुओं की कोटियाँ हैं, एवं y3 इन विन्दुओं पर खींची गयी स्पर्शियों के प्रतिच्छेद बिन्दु की कोटि है, तो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
किसी आयतीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी :

226119686

7.1K03:51

किसी आयतीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी :
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि z1z2 दो ऐसे सम्मिश्र संख्याएँ कि z1z2=1, तब z1z2 एक-दूसरे का ……………. कहलाते है ।

234321101

7.6K01:17

यदि z1z2 दो ऐसे सम्मिश्र संख्याएँ कि z1z2=1, तब z1z2 एक-दूसरे का ……………. कहलाते है ।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक बिंदु वस्तु एक काँच जिसका अपवर्तनांक (μs=32) है, से बने 20 सेमी फोकस दूरी वाले उत्तल लेन्स से 30 सेमी की दूरी पर रखी है। वस्तु का अन्तिम प्रतिबिमब अनन्त पर बनेगा यदि

95022519

4.8K08:36

एक बिंदु वस्तु एक काँच जिसका अपवर्तनांक (μs=32) है, से बने 20 सेमी फोकस दूरी वाले उत्तल लेन्स से 30 सेमी की दूरी पर रखी है। वस्तु का अन्तिम प्रतिबिमब अनन्त पर बनेगा यदि
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
दीर्घवृत्त x2a2+y2b2=1 की कोई स्पर्श रेखा अक्षों पर h व k लम्बाई के अंत: खण्ड काटती है, तो a2h2+b2k2 का मान होगा

358825701

9.8K02:19

दीर्घवृत्त x2a2+y2b2=1 की कोई स्पर्श रेखा अक्षों पर h व k लम्बाई के अंत: खण्ड काटती है, तो a2h2+b2k2 का मान होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक थैले में 4 सफेद व 3 काली गेंदें हैं। दूसरे थैले में 3 सफेद व 4 काली गेंदें हैं। यदि एक गेंद उठाई जाये ओर वह काली निकले तो इस काली गेंद के दूसरे थैले से निकालने की प्रायिकता है-

306960476

5.3K07:24

एक थैले में 4 सफेद व 3 काली गेंदें हैं। दूसरे थैले में 3 सफेद व 4 काली गेंदें हैं। यदि एक गेंद उठाई जाये ओर वह काली निकले तो इस काली गेंद के दूसरे थैले से निकालने की प्रायिकता है-
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि किसी त्रिभुज के शीर्षो के स्थिति सदिश क्रमश: a,b,c हो तो इस त्रिभुज के केन्द्रक का स्थिति सदिश होगा -

226114231

3.8K03:54

यदि किसी त्रिभुज के शीर्षो के स्थिति सदिश क्रमश: a,b,c हो तो इस त्रिभुज के केन्द्रक का स्थिति सदिश होगा -
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि किसी समकोणीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी

371318895

5K02:04

यदि किसी समकोणीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि पृथ्वी पर गुरुत्वीय त्वरण का मान 10 मी./से.^(2)   हो तथा पृथ्वी की त्रिज्या 6400 किमी. हो तो पृथ्वी के किस कोणीय वेग के मान के लिए वस्तु का भार भूमध्य रेखा पर शून्य होगा

306563428

7.5K04:24

यदि पृथ्वी पर गुरुत्वीय त्वरण का मान 10 मी./से.^(2)   हो तथा पृथ्वी की त्रिज्या 6400 किमी. हो तो पृथ्वी के किस कोणीय वेग के मान के लिए वस्तु का भार भूमध्य रेखा पर शून्य होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
1,2,3^(@) ऐल्कॉहॉल्स की अमलीय प्रबलता का आपेक्षिक क्रम क्या है? इस क्रम की उपयुक्त व्याख्या कीजिए।

110476434

7.9K04:17

1,2,3^(@) ऐल्कॉहॉल्स की अमलीय प्रबलता का आपेक्षिक क्रम क्या है? इस क्रम की उपयुक्त व्याख्या कीजिए।