doubtnut_header_logo_white_new

75 किग्रा द्रव्यमान का एक मनुष्य लिफ्ट में खड़ा हुआ है। जब लिफ्ट ऊपर की ओर 2 मी/से के एकसमान त्वरण से गति करती है तो लिफ्ट के फर्श द्वारा मनुष्य पर आरोपित बल होगा (g = 10 मी/2)

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

Updated On: 27-06-2022

लिखित उत्तर

A
600 न्यूटन
B
700 न्यूटन
C
800 न्यूटन
D
900 न्यूटन
Answer
The correct Answer is D
Solution
R= m(g+a) = 75 (10+2) =900 न्यूटन

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

हेलो दोस्तो पत्नी है 75 किलोग्राम रहमान का एक मनुष्य लिफ्ट में खड़ा हुआ है जब जब ऊपर की ओर 2 मीटर पर सेकंड के एक समान त्वरण से 2 मीटर पर सेकंड स्क्वायर होगा एक समान त्वरण से गति करती है तो लिफ्ट के फर्ज द्वारा मनुष्य पर आरोपित बल गोगाजी कॉल टू 10 मीटर पर सेकंड स्क्वायर है कि एक लिफ्ट हमारे पास हमने मान लिया कि लिफ्ट हमारे पास इसमें यहां पर कोई मनुष्य खड़ा है कुछ इस प्रकार से इसका मैं बाहर एम दिया गया है 75 किलोग्राम का इसका भार है तो इसका जो बाहर एमजी होगा वो नीचे क्यों लग रहा होगा चीकू जी जो होगा वह होती तो वह नीचे की ओर यहां पर लग रहा होगा जो है ऊपर की ओर जा रही है 2 मीटर पर सेकंड स्क्वायर के तारों से तो तोरण जो ऊपर क्यों लग रहा है वह कितना लग रहा है 2 मीटर पर सेकंड स्क्वायर की ओर से थोड़ा लग रहा है मतलब की लिफ्ट मारी जोड़ी ऊपर की ओर जा रही है इसकी जो प्रतिक्रिया लग रही होगी और लिख सकते या इसके ऊपर जो तनाव बल लग रहा होगा उसको भी मिल सकते हैं और ऊपर क्यों लग रहा होगा ठीक है यहां से अगर हम प्रभावी बल लिखेंगे अपना प्रभावी बल का समीकरण लिखेंगे
दिल्ली सट्टे हो जाएगा यह मारा ऊपर तनाव लग रहा हूं पर क्यों लिखूं जा रही है तो आर - एमजी इक्वल टू वन के कारण जो बंद हो जाएगा तो क्या हो जाएगा हो जाएगा यहां से हमें की गणना करनी है में प्लस m.g.r. की बदनामी क्यों करनी है क्योंकि सच में कह रहा है लिफ्ट के फर्स्ट द्वारा जो मनुष्य पर आरोपित बैलेंस ठीक है जो फर्स्ट के द्वारा यहां पर ऊपर क्यों आरोपित बल है उसके में गणना करने यहां से बाहर ले लेंगे तो ए प्लस जी हो जाएगा हमारे पास कितना है 75 है हमारे पास कितना दूर है जी का मानता से टिकट यह बाहर हो गया 12 गुने 75 हार का मान्य से आ जाता है 900 न्यूटन का तेरी मार इस प्रश्न का आंसर हो जाता है कि यहां पर जो आरोपित बल होगा वह 900 न्यूटन होगा ऑप्शन चौथा हमारे यहां से सही हो रहा होगा
संबंधित वीडियो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक वस्तु पूर्व दिशा की ओर 30 मी/से के वेग से जा रही है। 10 सेकण्ड के बाद यह वस्तु 40 मी/से के वेग से उत्तर की ओर गति करती है। वस्तु का औसत त्वरण है-

645691059

7.8K03:25

एक वस्तु पूर्व दिशा की ओर 30 मी/से के वेग से जा रही है। 10 सेकण्ड के बाद यह वस्तु 40 मी/से के वेग से उत्तर की ओर गति करती है। वस्तु का औसत त्वरण है-
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
किसी बेलन का अर्धव्यास 2 मी/से की दर से बढ़ता है और ऊँचाई 3 मी/से की दर से घटती है। जब उसकी ऊँचाई 5 मी और अर्धव्यास 3 मी हो, तो बेलन के आयतन के परिवर्तन की दर होगी

400564638

7.7K03:31

किसी बेलन का अर्धव्यास 2 मी/से की दर से बढ़ता है और ऊँचाई 3 मी/से की दर से घटती है। जब उसकी ऊँचाई 5 मी और अर्धव्यास 3 मी हो, तो बेलन के आयतन के परिवर्तन की दर होगी
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक वस्तु जिसका द्रव्यमान m है विराम से h ऊँचाई से गुरुत्वीय त्वरण g के अन्तर्गत गिरती है तथा यह रेत में गहराई d तक धंसती है। रेत में फँसने के दौरान औसत मन्दन होगा

371320155

5.6K02:42

एक वस्तु जिसका द्रव्यमान m है विराम से h ऊँचाई से गुरुत्वीय त्वरण g के अन्तर्गत गिरती है तथा यह रेत में गहराई d तक धंसती है। रेत में फँसने के दौरान औसत मन्दन होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक झील से 25 मी ऊपर एक बिन्दु P से एक बदल का उन्नयन कोण 30 है तथा P से झील में बादल के प्रतिबिम्ब का अवनमन कोण 60 है, तो झील की सतह से बादल की ऊंचाई (मीटर में) है

334964747

9.2K04:42

एक झील से 25 मी ऊपर एक बिन्दु P से एक बदल का उन्नयन कोण 30 है तथा P से झील में बादल के प्रतिबिम्ब का अवनमन कोण 60 है, तो झील की सतह से बादल की ऊंचाई (मीटर में) है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
द्रव्यमान m के एक कण को गति y=ut+12gt2 से वर्णित है । उस कण पर लगने वाले बल को ज्ञात करो ।

56702866

10K04:10

द्रव्यमान m के एक कण को गति y=ut+12gt2 से वर्णित है । उस कण पर लगने वाले बल को ज्ञात करो ।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक 5 मीटर का लड़का 2 मीटर त्रिज्या के क्षैतिज व्रत में एक प्रथर को डोरी से बांधकर, एकसमान्य चाल से घुमा रहा है व्रत की स्पर्श रेखा के अनुदिश चलते हुवे पृथ्वी पर 10 मीटर की क्षितिज दुरी पर गिरता है वृतीय गति में पत्थर पर कार्यरत अभिक्रिया त्वरण का मान ज्ञात कीजिय ( g = 10 मीटर/सेकण्ड2)|

94855360

4.4K04:43

एक 5 मीटर का लड़का 2 मीटर त्रिज्या के क्षैतिज व्रत में एक प्रथर को डोरी से बांधकर, एकसमान्य चाल से घुमा रहा है व्रत की स्पर्श रेखा के अनुदिश चलते हुवे पृथ्वी पर 10 मीटर की क्षितिज दुरी पर गिरता है वृतीय गति में पत्थर पर कार्यरत अभिक्रिया त्वरण का मान ज्ञात कीजिय ( g = 10 मीटर/सेकण्ड2)|
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक 13 मीटर लम्बी सीढ़ी दीवार के सहारे झुकी हुई है। सीढ़ी के पाद को 1.5 मी./से. की दर से जमीन के सारे दीवार से दूर खींचा जाता है। सीढ़ी तथा जमीन के मध्य का कोण किस गति से परिवर्तित हो रहा है जबकि सीढ़ का पावि दीवार से 12 मीटर दूर हो ।

237169525

8.2K05:01

एक 13 मीटर लम्बी सीढ़ी दीवार के सहारे झुकी हुई है। सीढ़ी के पाद को 1.5 मी./से. की दर से जमीन के सारे दीवार से दूर खींचा जाता है। सीढ़ी तथा जमीन के मध्य का कोण किस गति से परिवर्तित हो रहा है जबकि सीढ़ का पावि दीवार से 12 मीटर दूर हो ।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक पत्थर क्षैतिज से 30 का कोण बनाते हुए 100 मी./से. के वेग से फेंकी जाती है। ज्ञात कीजिए -
(i)पत्थर द्वारा प्राप्त की गई अधिकतम ऊँचाई
(ii) अधिकतम ऊँचाई प्राप्त करने के लिए इसके द्वारा लिया गया समय। (g=10./.)2

434171540

6.1K04:09

एक पत्थर क्षैतिज से 30 का कोण बनाते हुए 100 मी./से. के वेग से फेंकी जाती है। ज्ञात कीजिए -
(i)पत्थर द्वारा प्राप्त की गई अधिकतम ऊँचाई
(ii) अधिकतम ऊँचाई प्राप्त करने के लिए इसके द्वारा लिया गया समय। (g=10./.)2
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
रेखा 4x3y+2=0 के समांतर रेखाएं खींची गई है जो मूलबिंदु 35 से की दुरी पर है, तो निम्न में से कौन-सा एक बिंदु इनमे से किसी रेखा पर स्थित है?

334963983

3.2K04:14

रेखा 4x3y+2=0 के समांतर रेखाएं खींची गई है जो मूलबिंदु 35 से की दुरी पर है, तो निम्न में से कौन-सा एक बिंदु इनमे से किसी रेखा पर स्थित है?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक वृत्त X-अक्ष पर एक जीवा काटता है जिसकी लम्बाई 4a है तथा यह वृत्त Y-अक्ष के एक बिन्दु से होकर जाता है जिसकी मूलबिंदु से दुरी 2b है , तो वृत्त के केन्द्र का बिन्दुपथ (locus) है

334964516

5K04:26

एक वृत्त X-अक्ष पर एक जीवा काटता है जिसकी लम्बाई 4a है तथा यह वृत्त Y-अक्ष के एक बिन्दु से होकर जाता है जिसकी मूलबिंदु से दुरी 2b है , तो वृत्त के केन्द्र का बिन्दुपथ (locus) है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
किसी अक्ष के पारितः जड़त्व आघूर्ण 1.2ि2 है। इस प्रारम्भ में पिण्ड विराम में है । 1500 जूल की घूर्णन गतिज ऊर्जा उप्तन्न करने के लिए 25 रेडियन/"से"^(2) के त्वरण को पर निम्न समय के लिए आपरोपित करना होगा

95050979

1.5K03:05

किसी अक्ष के पारितः जड़त्व आघूर्ण 1.2ि2 है। इस प्रारम्भ में पिण्ड विराम में है । 1500 जूल की घूर्णन गतिज ऊर्जा उप्तन्न करने के लिए 25 रेडियन/"से"^(2) के त्वरण को पर निम्न समय के लिए आपरोपित करना होगा
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक फूलों की क्यारी, जो एक वृत्त के त्रिज्याखण्ड के रूप में है, की घेराबंदी करने के लिए 20 मीटर तार उपलब्द है। तो फूलों की क्यारी का अधिकतम क्षेत्रफल (वेग मी) में है

334963478

9K05:14

एक फूलों की क्यारी, जो एक वृत्त के त्रिज्याखण्ड के रूप में है, की घेराबंदी करने के लिए 20 मीटर तार उपलब्द है। तो फूलों की क्यारी का अधिकतम क्षेत्रफल (वेग मी) में है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक बिंदु p को एक वृत्त के भीतरी भाग से यादृच्छिक रूप से चयन किया जाता है, तो वह, प्रायिकता क्या होगी जिससे यह वस्तुतः वृत्त की परिसीमा के नजदीक होने की बजाय वृत्त के केंद्र से अधिक नजदीक होगा।

371320288

7.9K02:36

एक बिंदु p को एक वृत्त के भीतरी भाग से यादृच्छिक रूप से चयन किया जाता है, तो वह, प्रायिकता क्या होगी जिससे यह वस्तुतः वृत्त की परिसीमा के नजदीक होने की बजाय वृत्त के केंद्र से अधिक नजदीक होगा।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक धातु के बेलन को, जिसका व्यास 8 से.मी. और ऊँचाई 90 से. मी. है, गलाकर 12 से. मी. व्यास वाले कितने गोले बनाए जा सकते हैं ?

441541036

7.8K04:07

एक धातु के बेलन को, जिसका व्यास 8 से.मी. और ऊँचाई 90 से. मी. है, गलाकर 12 से. मी. व्यास वाले कितने गोले बनाए जा सकते हैं ?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक समबाहु त्रिभुज की भुजाएँ 2 सेमी/से की दर से बढ़ रही है। क्षेत्रफल के बढ़ने की दर, जबकि भुजा 10 सेमी हो, है

358826160

8.5K02:26

एक समबाहु त्रिभुज की भुजाएँ 2 सेमी/से की दर से बढ़ रही है। क्षेत्रफल के बढ़ने की दर, जबकि भुजा 10 सेमी हो, है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि एक वक्र बिंदु (1, -2) से होकर जाता है तथा इस पर किसी बिंदु (x, y) पर स्पर्श रेखा का ढाल (slope) x22yx है, तो यह वक्र निम्न में से किस बिंदु से होकर जाता है ?

334964679

8.8K05:40

यदि एक वक्र बिंदु (1, -2) से होकर जाता है तथा इस पर किसी बिंदु (x, y) पर स्पर्श रेखा का ढाल (slope) x22yx है, तो यह वक्र निम्न में से किस बिंदु से होकर जाता है ?