doubtnut_header_logo_white_new

यदि अतिपरवलय की उत्केंद्रता 2 हो, तो इसके संयुग्मी अतिपरवलय की उत्केंद्रता है-

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

Updated On: 27-06-2022

लिखित उत्तर

A
34
B
43
C
4
D
233
Answer
The correct Answer is D

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

क्या हुआ है यदि अति परवलय की उत्पादों हो तो इसके सहयोग भी अति परवलय कि उसके अंदर था हमको निकालनी है हम जानते हैं कि अगर अति परवलय कि केंद्र को दी हुई है तो हम क्या मान लेते हैं हम मान लेते हैं जो सहयोग लेते हैं हमको के बराबर दिया हुआ है तो हम जानते हैं कि के संबंध होता है उस संबंध होता है कि 1 का स्क्वायर प्लस 2 बराबर 1 मतलब सही उनकी भी अति परवलय और अति प्रबल की उत्कृष्टता के मध्य संबंध हो जाए तो यहां पर अपने जीवन का मानदेय निकालेंगे इंदौर में प्रयोग वन अपॉन फोर प्लस वन अपऑन 2 की घात 2 = 1
2 की घात 2 = 1 माइनस वन अपऑन 4 बराबर 3 बटा चार अमिया बने को नीतू के घर द्वार फुल करते जब इनके अलावा यहां से आ जाएगा आप की घात 2 बराबर 4 बटा 311 आ जाएगा 2 बटा रूट में वर्गमूल में टेंशन देख लेते हैं लेते हैं यह भी गलत है यह गलत भी लिख सकते हैं तो तुम आराम से हो जाएगा सही हो जाएगा धन्यवाद
संबंधित वीडियो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि एक अतिपरवलय के संयुग्मी अक्ष (conjugate axis) की लम्बाई 5 है तथा इसकी नाभियो के बीच की दुरी 13 है, तो इस अतिपरवलय की उत्केंद्रता है

334964535

7.9K03:33

यदि एक अतिपरवलय के संयुग्मी अक्ष (conjugate axis) की लम्बाई 5 है तथा इसकी नाभियो के बीच की दुरी 13 है, तो इस अतिपरवलय की उत्केंद्रता है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि बिंदु (4,6) से होकर जाने वाले मानक अतिपरवलय की उत्केंद्रता 2 है, तो (4,6) पर अतिपरवलय पर खींची गई स्पर्श रेखा का समीकरण है

334963689

1.9K04:44

यदि बिंदु (4,6) से होकर जाने वाले मानक अतिपरवलय की उत्केंद्रता 2 है, तो (4,6) पर अतिपरवलय पर खींची गई स्पर्श रेखा का समीकरण है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक अतिपरवलय की नाभियाँ दीर्घवृत्त x225+y216=1 की नाभियों के सम्पाती है। यदि अतिपरवलय की उत्केन्द्रता 3 हो तो उसका समीकरण ज्ञात कीजिए।

226119457

5K04:31

एक अतिपरवलय की नाभियाँ दीर्घवृत्त x225+y216=1 की नाभियों के सम्पाती है। यदि अतिपरवलय की उत्केन्द्रता 3 हो तो उसका समीकरण ज्ञात कीजिए।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि m1m2 अतिपरवलय x225y216=1 की स्पर्श रेखाओं की प्रवणताएं हो, जो बिन्दु (6,2) से गुजरती है , तो

358825807

5.9K03:16

यदि m1m2 अतिपरवलय x225y216=1 की स्पर्श रेखाओं की प्रवणताएं हो, जो बिन्दु (6,2) से गुजरती है , तो
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि अतिपरवलय 16x29y2=144 की नियता (directrix) 5x+9=0 है, तो इसका संगत नाभिकेन्द्र है

334963985

10K02:23

यदि अतिपरवलय 16x29y2=144 की नियता (directrix) 5x+9=0 है, तो इसका संगत नाभिकेन्द्र है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
किसी आयतीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी :

226119686

8.1K03:51

किसी आयतीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी :
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक अतिपरवलय बिन्दुओं (3,2) तथा (-17,12) से गुजरता है और उसका केंद्र मूलबिन्दु पर है तथा अनुप्रस्थ अक्ष x- अक्ष है। अतिपरवलय की अनुप्रस्थ अक्ष की लम्बाई है।

358825777

5.1K02:42

एक अतिपरवलय बिन्दुओं (3,2) तथा (-17,12) से गुजरता है और उसका केंद्र मूलबिन्दु पर है तथा अनुप्रस्थ अक्ष x- अक्ष है। अतिपरवलय की अनुप्रस्थ अक्ष की लम्बाई है।
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि किसी समकोणीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी

371318895

9K02:04

यदि किसी समकोणीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि अतिपरवलय x2a2y2b2=1 की उत्केन्द्रता e तथा अन्तःस्पर्शियों के बीच का कोण α हो, तो secα2=

226119712

9K03:42

यदि अतिपरवलय x2a2y2b2=1 की उत्केन्द्रता e तथा अन्तःस्पर्शियों के बीच का कोण α हो, तो secα2=
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक अतिपरवलय का केंद्र मूलबिंदु पर है तथा यह बिन्दु (4,2) से होकर जाता है और इसका अनुप्रस्थ (transverse) अक्ष X-अक्ष के अनुदिश है जिसकी लम्बाई 4 है तो इस अतिपरवलय की उत्केन्द्रता (eccentricity) है

334964250

4.3K02:29

एक अतिपरवलय का केंद्र मूलबिंदु पर है तथा यह बिन्दु (4,2) से होकर जाता है और इसका अनुप्रस्थ (transverse) अक्ष X-अक्ष के अनुदिश है जिसकी लम्बाई 4 है तो इस अतिपरवलय की उत्केन्द्रता (eccentricity) है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
एक दीर्घवृत्त जिसका केन्द्र मूलबिंदु पर है, की उत्केंद्रता 12 है। यदि उसकी एक नियता x=-4 है, तो उसके बिन्दु (1,32) पर उसके अभिलम्ब का समीकरण है

334963505

2.7K05:37

एक दीर्घवृत्त जिसका केन्द्र मूलबिंदु पर है, की उत्केंद्रता 12 है। यदि उसकी एक नियता x=-4 है, तो उसके बिन्दु (1,32) पर उसके अभिलम्ब का समीकरण है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अतिपरवलय 25x216y2=400 की जीवा का समीकरण क्या होगा, जिसका मध्य बिन्दु (5,3) है ?

358825828

2.7K02:57

अतिपरवलय 25x216y2=400 की जीवा का समीकरण क्या होगा, जिसका मध्य बिन्दु (5,3) है ?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि एक अतिपरवलय के शीर्ष (2,0) तथा (2,0) पर है तथा इसकी एक नाभि (3,0) पर है, तो निम्न में से कौन-सा बिन्दु इस अतिपरवलय पर स्थित नहीं है

334964616

9.2K04:29

यदि एक अतिपरवलय के शीर्ष (2,0) तथा (2,0) पर है तथा इसकी एक नाभि (3,0) पर है, तो निम्न में से कौन-सा बिन्दु इस अतिपरवलय पर स्थित नहीं है
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
उस दीर्घवृत्ताकार पथ की यांत्रिक रचना बताइये जिसके दीर्घाक्ष की भीतरी तथा बाहरी लम्बाईयाँ क्रमानुसार 400 और 440 मीटर है । पथ की उत्केंद्रता 0.8 है पथ अंकित करने के लिए कम से कम कितनी लम्बी डोरी चाहिए ?

127304815

3.6K03:58

उस दीर्घवृत्ताकार पथ की यांत्रिक रचना बताइये जिसके दीर्घाक्ष की भीतरी तथा बाहरी लम्बाईयाँ क्रमानुसार 400 और 440 मीटर है । पथ की उत्केंद्रता 0.8 है पथ अंकित करने के लिए कम से कम कितनी लम्बी डोरी चाहिए ?
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
यदि एक दीर्घवृत्त की दीर्घ अक्ष की लम्बाई, उसके लघु अक्ष की लम्बाई की तिगुनी है, तो उसकी उत्केन्द्रता होगी

358825705

8.1K02:04

यदि एक दीर्घवृत्त की दीर्घ अक्ष की लम्बाई, उसके लघु अक्ष की लम्बाई की तिगुनी है, तो उसकी उत्केन्द्रता होगी
doubtnut_header_logo_white_new
FULL VIDEO AND TEXT SOLUTION
अतिपरवलय 4x25y2=20 की एक स्पर्श रेखा, जो रेखा xy=2 के समांतर है, का समीकरण है

334964368

3.5K04:40

अतिपरवलय 4x25y2=20 की एक स्पर्श रेखा, जो रेखा xy=2 के समांतर है, का समीकरण है