Getting Image
Please Wait...
Login
Register now for special offers
+91

Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Physics

>

Chapter

>

वैघुत आवेश तथा क्षेत्र

>

2.55xx10^(4)N C^(-1) के नियत...

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

लिखित उत्तर

Solution :  `9.81xx10^(-4) mm`

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

हमारे पास क्वेश्चन का दिया हुआ है कि 2.55 * 10 की घात 4 न्यूटन पर कूलाम के नियम विद्युत क्षेत्र के प्रभाव में 12 इलेक्ट्रॉन आधिक्य की कोई तेल बूंद स्थिर रखी जाती है अमेरिकन तीन बूंद का प्रयोग यहां पर हो रहा है तो और तेल का जो घनत्व है वह कितना है 1.26 ग्राम पर सेंटीमीटर क्यूब है बूंद की त्रिज्या का आकलन कीजिए और हमारे पास क्या दिया होगा स्मॉल जी की वजह से कितनी दूरी है 9.81 मीटर पर सेकंड स्क्वायर और स्माल यानी एक इलेक्ट्रॉन पर आवेश कितना 1.6 * 10 की घात - का 19 गुलाम तो यहां पर क्या करते हैं यहां पर इस क्वेश्चन का महल करेंगे तो यहां पर इस तरीके से जो तेल की बूंद को इस तरीके से यहां पर हम गोलाकार मानेंगे ठीक है और इसमें क्या है कि 12 इलेक्ट्रॉनों की अधिकता है ठीक है तो इन इलेक्ट्रॉनों की अधिकता के कारण यहां पर क्या होगा इस फोन पर

आवेश होगा तो इस पर आवेश का मान कितना है क्यों बराबर एंड गुडी के फार्मूले से सूत्र से हम यहां पर क्या इस बून पर आवेश का मान निकालेंगे तो यहां पर एंड कितना है 12 जो है इलेक्ट्रॉन है तो 12 घोड़े एक इलेक्ट्रॉन पर आवेश होता है वह इस मामले के बराबर होता है जो कि यहां पर दिया होगा तो कितना हो जाएगा 1.6 * 10 की घात - का 19 का नाम टिकते यहां पर काम करा कर आएंगे तो कितना बजे आएगा 19.2 * 10 की घात - का 19 गुलाम थे इस बूंद को यहां पर क्या किया जा रहा है कि इस वैद्युत क्षेत्र की सहायता से ही कितना है 2.55 * 10 की घात 4 न्यूटन पर कूलाम इस वैद्युत क्षेत्र की सहायता से स्थिर रखा जा रहा है ठीक है यानी कि यहां पर क्या है यहां पर फोन पर एक नीचे मेरी तरफ बल लग रहा होगा जो कि इस के बाहर के बराबर होगा ठीक है भार कितना होगा भार होगा हमारा क्या एम घोड़े जी यानी कि एमजी तो यहां पर क्या इसको हम इस

भार को हम यहां पर डब्लू से दिखा देना डब्लू बराबर क्या एमजी तो इस एमजी के कारण यहां पर क्या होना चाहिए इस बूंद को नीचे की तरफ आना चाहिए लेकिन इस बल को संतुष्ट कर रहा है यहां पर क्या जो कि यहां पर जो यह बात पर लगेगा या नहीं यहां पर क्या हो जाएगा यह कि आप वैद्युत बल है जो यहां पर क्या है कि इस पल को संतुष्ट कर रहा है जिसके कारण वह यहां पर स्थिर रहते एफ बराबर क्या हो जाएगा डब्ल्यू तो यहां पर बराबर क्या हो जाएगा खराब हो जाएगा जो * 2 * 2 = क्या हो जाएगा डब्ल्यू जाने की अंग्रेजी तो यहां पर देखिए यह एम क्या है एम यहां पर जो इस फोन का दामाद है तो धर्मा के लिए क्या करेंगे हमारे पास एक सूत्र होता है घनत्व का घनत्व बराबर क्या होता है द्रव्यमान बटे आयतन

तो यहां पर क्या हो जाएगा कि घनत्व कम दिखाएं किस से रो से दिखा रहे हैं अरमान को एम से दिखा रहे हैं और आयतन को कैपिटल पैसे दिखा रहे थे यहां से क्या जाएगा एम बराबर कितने बजे आएगा जो घोड़े वी वी क्या यहां पर भी आयतन होता है और यहां बूंद को हम यहां पर गोलाकार मांग रहे हैं तो यहां पर क्या हो जाए गोले का आयतन क्या होता है गोले का आयतन होता है चार बटे तीन आई आर की घात तीन तो वह मान यहां पर रखते ने मान लिया यहां फोन की त्रिज्या कितनी है आ रहे हैं तो यहां से बराबर कितना आ जाएगा जो घोड़े चार बटे तीन भाई आप की खातिर इस मांग को हम यहां पर रखते हैं देखिए तो उससे पहले हम लोग यहां पर क्या करते हैं देखिए एम बराबर कितना आ जाएगा यहां पर एम बराबर आ जाएगा क्यों गुडे बटे जी अब यहां पर देखिए एम का मान यहां पर कितना है

देखिए यहां पर यहां पर क्या जाएगा जो घोड़े और अपन तीन पाई आर की घात 3 बराबर क्यों * देखिए यहां पर हमें आर का मान निकालना है तो आर की घात 3 बराबर कितना बजे आएगा क्यों घोड़े घोड़े 3 बर्थडे पाई * 4 * * जी अब यहां पर क्या करते हैं अब यहां पर सब का मान रखते हैं तो यहां पर क्या जाएगा देखिए आर की घात 3 बराबर क्यों का मान कितना दिया होगा क्योंकि मन दिया 19.2 19.2 * 10 की घात - का 19 घोड़े का मान कितना दिया हुआ है कमान यहां पर दिया हुआ कितना 2.5 5 * 10 की घात

4 कितना आ जाएगा 2.55 * 10 की घात 4 * 3 बटे पाई का मान कितना दिया हुआ 3.14 होता है यह ठीक है गुले चार घोड़े रो-रो कमान यहां पर क्यारो यहां पर घनत्व है जो कि यहां पर दिया हुआ कितना 1.26 ग्राम पर सेंटीमीटर क्यूब लेकिन यहां पर यह मान रखेंगे हम किस में 1 किलोग्राम पर मीटर क्यूब मे ठीक है तो यहां पर हमको दिया होगा 1.26 ग्राम पर सेंटीमीटर क्यूब स्कर्मिष ग्राम को चेंज करना किसमें किलोग्राम में और इस सेंटीमीटर को चेंज करना है मीटर में तो यहां पर क्या हो जाएगा देखिए 1.26 ग्राम को चेंज करना किलोग्राम में तो यहां से गुना हो जाएगा एक बटे 1000 का क्यों क्योंकि 1 किलोग्राम बराबर कितना होता है 1000 ग्राम होता है

इस तरीके से यहां पर क्या होता है 1 मीटर बराबर होता है 100 सेंटीमीटर इस समय से यहां पर क्या हो जाएगा इसके बटर में क्या हो जाएगा बटन हो जाए क्या एक बटे 100 का क्यूब 1 टो 100 का क्यों हो जाएगा यह तो इसको ब्लॉक हाल करेंगे तो यह मारा आ जाएगा एक हमला 26 * 10 की घात 3 किलोग्राम पर मीटर क्यूब यह मान यहां पर रखेंगे तो यहां पर कितना आ जाएगा देखिए 1.2 6 * 10 की घात 3 अब यहां पर क्या दिया है अब यहां पर दिया हो जी का मंत्र 9.8 ठीक अब यहां से क्या करेंगे देखिए यहां से जब घात 3 हटेगी तो यहां पर क्या जाएगा यहां पर घनमूल आ जाएगा तो आज बराबर कितना बजे आएगा और बराबर भी हो जाएगा यह घनमूल के अंदर इसको हम यहां पर हल करेंगे तो हमारा आ जाए कितना है यह मेरा आज आएगा 946 तो समझो 09 *

10 की घात - का 2133 का घनमूल हल करेंगे तो यहां पर आ जाएगा और बराबर 9.82 * 10 की घात - का 7 मीटर टिक अब यहां पर हम चाहे तो इसको यहां पर क्या है कि m.a. में लिख सकते हैं ठीक है तो यहां पर होता है क्या देखें 1 मीटर में क्या होता है 1000 एमएम होते हैं तो यहां पर क्या जाएगा यहां पर आर बराबर हमारा आ जाए कितना 9.82 * 10 की घात यहां पर क्या हो जाएगा देखिए यहां पर गुडे होगा क्या गोली में दसवीं का 3 आएंगे तो यहां पावर 3 ऐड हो जाएगी तो माइनस का सेवन प्लस का 3 - का 4mm ठीक तो इस तरीके से यहां पर क्या गया है यह हमारी फोन की तरफ जा बूंद की त्रिज्या हो गई ठीक है थैंक यू

संबंधित वीडियो

584175802

0

7.4 K

कॉलम - I में कुछ निश्चित स्थितियां दी गई है जिनमे प्रतिरोध का सीधा धात्विक तार प्रयुक्त किया है तथा कॉलम - II में कुछ परिणामी प्रभाव दिए है कॉलम - I के कथनो को कॉलम - II के कथनो से सुलमित कीजिए <br> `{:(,"कॉलम - I",," कॉलम - II"),((A),"एक आवेशित संधारित्र को तार के सिरों से जोड़ा गया है",(p)," एक नियत धारा तार में से प्रवाहित होती है"),((B),"तार को इसकी लम्बाई के लम्बवत नियत वेग से एक समान चुम्बकीय क्षेत्र में गतिमान किया जाता है चुम्बकीय क्षेत्र गति के तल के लम्बवत है",(q),"उष्मीय ऊर्जा तार में उत्पन्न होती है"),((C),"तार को नियत विधुत क्षेत्र में रखा जाता है जिसकी दिशा तार की लम्बाई के अनुदिश है",(r),"तार के सिरों पर एक नियत विभवान्तर उत्पन्न होता है"),((D),"तार के सिरों पर एक नियत वि. वा. बल. की बैट्री जोड़ी जाती है",(s),"तार के सिरों का नियत परिमाण का आवेश उपस्थित होता है"):}`
Show More
Comments

Add a public comment...