Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Physics

>

Chapter

>

विद्युत -चुम्बकीय तरंगे , संचार एवं समकालीन भौतिकी

>

आयाम मॉडुलन आवृत्ति मॉडुलन ...

आयाम मॉडुलन आवृत्ति मॉडुलन व कला मॉडुलन का सचित्र वर्णन कीजिये

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

नमस्कार दोस्तों दिया गया प्रश्न है आया मॉडल इन तथा आवर्ती मॉडल इन वरकला मॉडल इन का सचित्र वर्णन कीजिए मॉडर्न का मतलब होता क्या है मॉडल नेशन का मतलब यह होता है कि दोस्त तो हमारा संगीत सिग्नल होता है या कोई भी ध्वनि सिंगल हो ठीक है जिसको हमें एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाया ना हो ठीक है या हमें क्या करना दोस्तों उसे दोस्तो उच्च आवृत्ति की तरंगों के साथ में क्या कर दिया जाता है मिला दिया जाता है तो उच्चारण के मतलब जैसे कि दोस्तों जो उनकी आवृत्ति होती है वह 10 की घात 6 के हर ज्योति माता मेगा हर्ट्ज में ब्यावर थी पाई जाती है इन्हें का जाता है वाहक तरंगे तो वह तरंगों की आवृत्ति बहुत ही अधिक होती है तो जब बाहर तरंगों को संकेत सिग्नल के साथ में मिला दिया जाता है तो यहां पर क्या होता है माड्यूलेशन होता है तुझे जो कितने होता है तो इन प्रकार का होता है ठीक है तो संगीत सिग्नल को हम लोग कैसे एमएफपी से प्रदर्शित करते हैं वह तरंगों को से और इसे प्रदर्शित किया जाता है तो यह जो आवृत्ति मोटिवेशन आया मॉडरेशन और कलाम और रिलेशन है यह तीनों

आसन के प्रकार होते हैं तो पहले हम लोग दोस्तों आया मॉडरेशन पड़ेंगे फिर हम लोग पढ़ेंगे की आवृत्ति माड्यूलेशन क्या होता है और आवृत्ति के पश्चात कला बॉडी लोशन के बारे में हम लोग पढ़ेंगे तो अब जैसे कि हमें कहा गया है कि इनको सचित्र समझाना है सचित्र वर्णन करना है तो शुरुआत करते हैं आया मोटिवेशन से ठीक है तो आया मोटिवेशन से शुरू करने से पहले हम लोग यहां पर देख लेते हैं कि होता क्या है कि यहां पर अब जैसे ही रिश्ते जो हमारा जो संकेत सिग्नल है उसको मिलाया जाएगा कितने पागल से तो बाहर से मिलाने के पश्चात क्या होता है कि आया औरत की और कला तीन रूप से हमारे विशेष वाहक सिग्नल है ठीक है उसमें परिवर्तन हो सकता है क्योंकि वह सिंगल को अलग-अलग रूप से परिवर्तित करने पर क्या किया जाता है कि अगर आया मॉडल सन करेंगे तो उसमें आवडती कला नियत रहेगी और थे मॉडर्न करेगा तो उसमें आया और कला नियत रहेगा और अगर कला हम लोग कर रहे हैं मोटिवेशन तो उसमें

आयाम और आवृत्ति ज्ञात रहे कि कैसे इसे हम चित्र से आप समझते हैं तो मान लेते हैं यह क्या है हमारा यह संकेत सिग्नल है ठीक है संघ के सिग्नल ऑफ अब यहां पर जब इसमें क्या मिला दी जाएगी वाहक तरंग मिला दी जाएगी तो वह तरंग होती है एक उच्च आवृत्ति का सिग्नल उच्च आवृत्ति की तरंग दोस्तों मतलब मैं घाट की आवृत्ति की तरंगे होती है यह तो यहां पर आप देख सकते हैं यह सीआरपीएफ आयाम मॉडुलन में मिलाया जाता है तो आया मॉडल किचन का जो परिणाम होता है वह कुछ इस प्रकार से प्राप्त होगा कि जो वाहक तरंग है उसके आया में क्या हो जाएगा परिवर्तन हो जाएगा इसके हिसाब से जो हमारी संकेत सिग्नल है उसके आयाम के हिसाब से सन के सिग्नल का आयाम आप दोस्तों इसको नहीं सकते हैं और यह - ऑफ किया परंतु आवृत्ति से जलका आया हो तो हर

इस पर नियत रहता है परंतु आवश्यक नहीं है कि संदेश सिंगल का जो आया मैं हर बिंदु पर नियंत्रण यहां पर जो तू बात करेंगे उसके आया में अब क्या हो जाएगा परिवर्तन होगा वह भी किस के हिसाब से जो हमारे संग के सिग्नल है उसके हिसाब से ठीक है तो यहां पर आप परिणाम ही सिंगल कुछ इस प्रकार से देख सकते हैं ठीक है तो यह जो आप देख रहे दोस्तों यह कहलाता है आया मॉडरेशन ठीक है तो आयाम मॉडुलन जो होता है इसमें क्या किया जाता है दोस्तों इसमें आवृत्ति और कला एक नियत रूप में रहते हैं ठीक है पति और कला नियत है कि जब की यहां पर दोस्तों आया में कैसा होता है वक्त रंग के परिवर्तन होता है और वह कुछ कैसे होता है ठीक है तो आप देख सकते हैं कि जैसे ही यहां पर दोस्तों ने किया जाएगा तो अब वाहक तरंग की आवृत्ति तो जैसे कि वैसी ही रहेगी कल आ भी जा सके पैसा रहेगा लेकिन अब हर बिंदु पर आयाम जो है वह कैसा हो गया है परिवर्तित हो गया है तो इस प्रकार से दोस्तों आया माड्यूलेशंस किया

जाता है तो हमसे बोला नहीं था कि आया मॉडर्न आवृत्ति मॉडल और कला मॉडल में कुछ सचित्र समझाइए तो यह होता दोस्तों यह जो हमें प्राप्त हुआ है यह आयाम मॉडुलन ठीक है अब बात करते हैं दोस्तों किस की आवृत्ति मॉडल की आवृत्ति मॉडल में अभी आपको बताया कि क्या होता है जो वैल्यू है दोस्तों किसकी आयाम की और कला की आयाम और कला यहां पर कैसे रखे जाते हैं नियत रखे जाते हैं परंतु जब भी मॉडरेशन होगा तो हमारा संदेश सिग्नल का दस्तूर रंग तथा करते जो होते हैं या आप कह सकते हैं इसके जो आयाम होते हैं इसके हिसाब से ही 72 अंकों में परिवर्तन किया जाना है तो वहां तरंगों की अब क्या परिवर्तित हो गई आवृत्ति माड्यूलेशन में आवृत्ति परिवर्तित होगी किस के हिसाब से सन के सिग्नल के संग और घटिया आप के चलते संघ के सिग्नल के आयाम के हिसाब से तो जहां पर आया कैसा होता है धनात्मक होता है वह औरत की अधिकतम पर जहां पर दोस्तों संकेत सिग्नल जो होता है वो ऋण आत्मक होता है उसका आया वहां पर

आवृत्ति न्यूनतम मतलब अभी दोस्तों यहां पर आया में कोई परिवर्तन नहीं होगा तो यहां पर आप देख सकते हैं कि जो आया मैं दोस्तों वह जाता कि बेटा लेकिन जो आवृत्ति है ठीक है उसका मान यहां पर कैसा हो गया बढ़ गया और जैसे ही आवृत्ति का मान यहां बढ़ गया और धीरे-धीरे दोस्तों गर्त में जा रहे हैं तो अब यहां पर आवर्ती का मान का मौका चंगा या टिकट में फिर आवृत्ति का मान बढ़ेगा और फिर घर पर आरती का मान काम होगा तो इस प्रकार से आप देख रहे हैं कि यहां पर आवृत्ति ज्यादा है फिर यहां पर आवृत्ति कम है फिर यहां पर भी ज्यादा है और फिर यहां पर आओ रखती का मैच तो यह हमारे पास में आवृत्ति माड्यूलेशन होता है आया मैं क्या होगा कोई परिवर्तन नहीं होगा आया वह बिंदु पर आप देख सकते दोस्तों कैसे हैं नहीं आती है ठीक है अब बात करते हैं किस की कला माड्यूलेशन कि अब कलामो रिलेशन में क्या होता है कि दोस्तों यहां पर आवृत्ति और जो आयाम होता है वह कैसा होता है नियत रखा जाता है तो यहां पर जब इन दोनों ही चीजों

को नियत रख दिया जाता है तो परिणामी सिग्नल हमें कुछ इस प्रकार से प्राप्त होगा जैसे कि आप अभियान पर चित्र में देखेंगे अब कला में परिवर्तन होता है और वह भी कैसा 0-180 अभिषेक रंग आता है तो तो तो जीरो डिग्री से परंतु जैसे ही गर्त में पहुंचते हैं वहां पर 180 डिग्री का क्या जाता है कला शिफ्ट हो जाता है ठीक है तो आप देख सकते हैं यहां से हमारा बात करेंगे तो यहां तो तू जैसा कि पैसा आएगा लेकिन जैसे ही इस बिंदु पर पहुंचेगा तो अब वहां पर क्या हो जाएगा इसका कला शिफ्ट हो जाएगा मतलब अब यह ऐसा ना हो करके अभी कैसा हो जाएगा अब यह दोस्तों कुछ इस प्रकार से हो जाएगा ठीक है तू यहां से इसी प्रकार से अब हमारी आवृत्ति चलेगी फिर यहां पर इस बिंदु पर आएगा अब इस बिंदु पर क्या कोई भी शक नहीं होगा यह सीधा सीधा चलेगा ऑफिस जैसे चंद वाले पॉइंट पर आगे फिर शिफ्ट हो जाएगा इस प्रकार से क्या होता जिस तो यहां पर आ चुका है उसमें परिवर्तन हो जाता है तो किस प्रकार से बनाते हैं देखे यहां पर हमारे पास में

सबसे पहले शुरू हुआ सुरंग सुरंग में कोई परिवर्तन नहीं होगा अब आया गलत में हमारा 180 आज की आवृत्ति बदल जाएगी फिर हमारा क्या चला दो यहां पर दिखे सिग्नल का क्या चल रहा है यह घर चला यहां पर खड़ा करके खत्म हो गया अब सिग्नल यहां पर जैसा कि वह सारा अब क्या बदलेगा बाप फिर जिसकी उसे जो कहना है वह बड़ी बात होगी फिर चला फिर यहां पर कला बदली ठीक है फिर चला फिर यहां पर की कला बदली तो इस प्रकार से इस की क्या होती कला में परिवर्तन होते रहता है यही हमारे प्रश्न का उत्तर दोस्तों धन्यवाद

संबंधित वीडियो

Show More