Getting Image
Please Wait...
Login
Register now for special offers
+91

Home

>

Hindi

>

कक्षा 10

>

Maths

>

Chapter

>

बिन्दुपथ

>

तीन समरेख बिन्दुओ से समदूरस्थ ...

तीन समरेख बिन्दुओ से समदूरस्थ बिन्दुओ का बिन्दुओ का बिन्दुपथ क्या होगा ?अपने उत्तर का कारण स्पस्ट कीजिए ।

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

नमस्कार दोस्तों आज का मारा सवाल है तीन सामरिक बिंदुओं से सम दूरस्थ बिंदु का बिंदुपथ क्या होगा अपने उत्तर का कारण स्पष्ट कीजिए तो आइए सवाल कॉल करते तो यहां पर मैं क्या बोला तीन समरी बिंदुओं से सम दूरस्थ बिंदुओं का बिंदुपथ 3 संरेख बिंदु संरेख बिंदु मतलब सामान रेखा पर स्थित बिंदुओं से सम दुरस्त मतलब समान दूरी पर स्थित बिंदु का बिंदुपथ तो यहां पर सबसे पहले मैं एक रेखा बनाऊंगा मालवीय हमारे पास एक देखा है जिस पर तीन बिंदु पर स्थित है यह मत पास बिंदु यह है यह मेरे पास बिंदु भी है और यह हमारे पास बिंदु सी है अब यह तीनों बिंदु एबीसी क्या है कमरे के सामान दिखा पर स्थित है अब इन तीनों से सम दूरस्थ बिंदु मान लेता हूं मैं पी मालू यहां पर वापस बिंदु पी है जो जो तीनों बिंदु से समान दूरी पर स्थित है मतलब यहां पर एपी दूरी है वह हमारे पास बीवी दूरी के बराबर होगी और जब बीवी दूरी है वह मेरे पास पीसी दूरी के बराबर होगी यहां पर हमारे पास हमें क्या सिद्ध करना है कि हमारे पास दे रखा है तीनों की बिन

तू है ए बी सी सी सम दुरस्त है मतलब पिए बराबर पी बी बराबर 30 सीटों में बिंदु पी का बिंदुपथ निकालना है तो हम जानते कि हमारे पास दो बिंदुओं को मिलाने वाली रेखा जैसे मानो यहां पर यह भी हमारे पास एक रेखा है यह वापस बिंदु है और यह हमारे पास बिंदु भी है तो इस बिंदु ए और बी से समान दूरी पर स्थित बिंदु का बिंदुपथ होगा वह हमारे पास क्या होगा इस ए पी के लंबवत रेखा जो एबी को तो सामान भागों में विभाजित करती है यह हमारे पास क्या हो जाएगा इस बिंदु पी का बिंदु पर जो यहां पर मालूम है बिंदु क्यों है बिंदु क्यों जो ए और बी से समान दूरी पर है मतलब यहां पर एक ही बराबर हमारे पास क्या होगा एबी तो इस बिंदु क्यों का एक-एक क्यों बराबर क्या हो जाएगा अभी क्यों सॉरी बिंदु बीबी से दूरी हमारे पास क्या जाएगी भी q1q बराबर भी क्यों तो क्यों का जो बिंदु बहुत होगा वह क्या हो जाएगा एपीके रेखा जो एबी को दो समान भागों में विभाजित कर रही है मतलब यहां पर वापस जो क्यों बिंदु है उसका बिंदु पति है रेखा होगी जो ए और बी से हमेशा क्या हो गया इस पर उपस्थित कोई भी नहीं ले लो ए और बी से हमेशा का होगा समान दूरी पर

होगा तो यहां पर अगर मैं पहली कंडीशन यूपीए बराबर पीवी अगर यहां पर मैं यूपीए बराबर पी भी तो पी हमारे पास क्या है और भी दो बिंदु है और दोनों से समान दूरी पर स्थित बिंदु है मतलब पिकाचू हिंदी बहुत होगा वह हमारे पास क्या होगा एबी के लंबवत रेखा तो यहां पर यह तुम्हारे पास क्या हो जाएगी एबी के लंबवत रेखा यह वापस एबी के लंबवत रेखा हो जाएगी यह माल वापस एबीसी समरे के बदले समान रेखा पर स्थित है उस रेखा को मेल बोलता हूं इसी प्रकार बीसी अगर मैं यहां पर देखो पी बी बराबर हमें क्या दे रखा है पीसीपीबी बराबर पीसी मतलब यहां पर जो बिंदु पी है बी और सी से भी समान दूरी पर स्थित है बी और सी से समान दूरी पर स्थित बिंदु का बिंदुपथ होगा वह क्या हो जाएगा बीसी के लंबवत रेखा जो बीसी को तो समान अनुपात में विभाजित करती है तो यहां पर यह मेरे पास क्या हो जाएगी एक रेखा जाएगी यह मेरे पास एक रेखा जाएगी जो भी और सीखो समान अनुपात में विभाजित कर रही है अगर यहां पर मैं यह दूरी इस दूरी के बराबर है इसी प्रकार यहां पर जो यह दूरी है

इस दूरी के बराबर है तो इस पर उपस्थित जो हिंदू होगा वह भी उसी से समान दूरी पर स्थित होगा और इस रेखा पर उपस्थित जो हिंदू होगा वही और भी से समान दूरी पर स्थित होगा अब यहां पर यह रेखा मान लेता हूं मैं एल्बम और यह रेखा मैं मान लेता हूं L2 अब एल्बम है वो एबी पर क्या है एपीके क्या है लंबित है मतलब यहां पर मैं क्या बोलूंगा की एल्बम लंबित है एल के एल्बम हमारे पास अफ्रीका के लंबे थे क्योंकि हमारे पास यदि को मिलाने वाली रेखा है और एल्बम क्या इसके लंबवत रेखा इसी प्रकार L2 है वह नंबर किसके हो जाएगी L2 है वह लंबा तेल के एल्बम लंबित है एलकेएसडीपी इसकी रेखा केबीसी को मिलाने वाली रेखा के क्या अलामत और बीसी इबीसी के सामरिक है मतलब L2 लंबित है क्या है अगर एल्बम नंबर है lal2 लंबित है एल तो यहां से मैं क्या लिख सकता हूं एल्बम समांतर है L2 के एल्बम समांतर है L2 के एल्बम समांतर है l2k मतलब यहां पर दोनों का कोई भी प्रतिशत बिंदु नहीं है दोनों दो समांतर रेखाओं का कोई भी प्रतिशत मीनू नहीं होगा और यहां से हमारे पास क्या है तब यह बराबर बीवी से हम क्या बोल सकते थे कि वहां पर जो बिंदु

अभी है वह एल्बम रेखा पर स्थित है और पी बी बराबर पीसी से हम क्या बोल सकते थे बिंदु पी है वह L2 रेखा पर स्थित है क्योंकि यहां पर वापस क्या परिभाषा थी किस रेखा पर उपस्थित जो भी हिंदू होगा वही और भी समान दूरी पर होगा और यहां पर में क्या दे रखा है पिए बराबर पीपी मतलब बिंदु पी है वह और भी से समान दूरी पर स्थित है मतलब बिंदु कि हमारे पास एल्बम पर उपस्थित है इसी प्रकार पी बी बराबर पीसी मतलब बिंदु पी है वह L2 पर उपस्थित है लेकिन यहां से वापस के एल्बम समांतर l2k मतलब दोनों का कोई भी प्रतीक्षित बिंदु नहीं है दोनों का कोई भी हल नहीं है यहां पर दोनों का कोई भी प्रतिशत भी नहीं है दो रेखा के समांतर होती है तो कोई हल नहीं होता कोई हल नहीं है तो मैं क्या बोलूंगा तो यहां पर कोई हल नहीं है और यहां से मेरे पास क्या था बिंदु पी है वह एल्बम पुरुष है और बिंदु पी है वह L2 पर स्थित है और यहां से मेरे पास क्या-क्या एल्बम समांतर l2k मतलब यहां पर मैं बोलूंगा बिंदु पी का अस्तित्व ही नहीं है क्योंकि बिंदु पी एल्बम पर भी स्थित है और बिंदु पी एल टू कर्वी स्थित है और एल्बम्स अमांतरेल टू है मतलब दोनों का कोई प्रतीक्षित बिंदु ही नहीं है आता मैं क्या बोलूंगा बिंदु पी का अस्तित्व ही नहीं है अतः बिंदु पी का चित्र ही नहीं है

बिंदु पी का अस्तित्व नहीं है यहां पर मैं क्या बोला था 3:00 संरेख बिंदु से समान दूरी पर स्थित बिंदु का बिंदुपथ तो यहां पर हमने बिंदु कौन सा माना था पी और अपने उत्तर का अपने उत्तर के कारण स्पष्ट कीजिए तो यहां पर हम क्या बोलेंगे कि 3:00 संरेख बिंदु से समान दूरी पर स्थित बिंदु का अस्तित्व ही नहीं होगा तो उसका कोई भी बिंदुपथ नहीं होगा धन्यवाद

संबंधित वीडियो

Show More
Comments

Add a public comment...