Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Physics

>

Chapter

>

संधारित्र तथा स्थिर-विद्युत जनित्र

>

बेलनाकार संधारित्र की धारिता क...

बेलनाकार संधारित्र की धारिता का व्यंजक व्युत्पन्न करे।

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

कृष्ण ने दिया है क्या सिद्ध कीजिए कि एक आवश्यक चाल की उर्जा एक बटे दो यू वी के रूप में हम जहां क्यों और विक्रम इशा उस आवश्यक चालक के लिए उसके आवेश और वैभव के मान हैं तब हमें दर्शना यह भी है कि 2 शिक्षकों के बीच हमेशा आवेश पंटल यह मुझसे कहते हैं शेयरिंग ऑफ चार्जर से हमेशा ऊर्जा का हाथ होता है या ऊर्जा की हानि होती है यह हमें सदा करना है तो पहले हम यह आश्चर्य की उर्जा एक बटे दो क्यूबिक किस तरह से होगी ऐसा मैंने क्या किया एक चालक लंबाई प्रवेश एक समान रूप से वितरित होगा पहले हम यह मानते हैं कि चालक है वह अनावश्यक है मतलब उस पर कोई भी आदेश नहीं है अब क्या होता है जब उसे हमें आवेश देना होता है तो आप इस देने के लिए हमें कुछ कार्य करने कार्य करने होते हैं और यही जो कार्य होता है वह इस चालक में विद्युत स्थितिज ऊर्जा के रूप में संचित होती तब हम मानते हैं कि कोई चालक हमारे पास यहां पर है तो हम उसे धन आवेश

तुम किसकी सहायता से सीधी यह होता है कि अभी पूर्ण रुप से एक बार में ही इस पर पूरी तरह से वितरित नहीं होता है इसके लिए क्या होता है इसके लिए कुछ समय लगता मान सकते हैं कि जो धन क्यों आवेश है एक बार में ना दे करके इसे इकाई आवेश के रूप में दिया जाता है हमने इकाई आवेश के रूप में इसे दिया ठीक है तो पहले क्या होता है जब वह चालक यहां पर अन आवेशित है जिसका कोई चार्ज नहीं है तब यहां पर उसे इकाई आवेशम देते हैं ठीक है धमकी आवेश का कुछ हिस्सा या इकाई आवेश का मान यदि इस पर दिया जाता है तो इसके लिए हम पहले खुद तो कुछ पहली बार पर हमें कुछ कार्य नहीं करना होगा यह तो हमें बताएं अजब धन आवेश उस पर एक समान रूप से वितरित हो गया है एक और इकाई इसी तरह हम पूरे धन क्योंकि उनको धीरे-धीरे उस पर देते जाते हैं पहले तो हमने धन आवेश दे दिया यह तो हमें समझ लिया अब क्या होगा हमें दूसरा अगर इकाई आवेश है उसे देना है तो हमें क्या करना होगा हमें उसके लिए थोड़ा सा कार्य करना पड़ेगा क्योंकि कि यहां पर भी धन आवेश और हमें धन आवेश को और उस पर रखना है तो उसे इसके लिए हमें प्रतिकर्षण के विरूद्ध कार्य करना

तू इस तरह क्या होता जाता है जैसे जैसे इस पर आवेश की जाती है आवेश की मात्रा यहां पर बढ़ती जा रही है तो हमें उसे आशीष प्रदान करने के लिए या इकाई आवेश प्रदान करने के लिए उतना ज्यादा कार्य करना पड़ता है इस तरह कार्य का मन भरता जाता है और हम अंत मुझसे बात करें इसके लिए कि यह चालक हमारे पास है उसका विभव इस तरह से क्या होगा उसका वैभव इस तरह बढ़ते जाएंगे यदि आवेश का मान उस पर बढ़ते जाता है या उस पर कार्य का मन भर जाता है तो अब मान लेते हैं कि अंतिम रूप से इसके विभव का मान भी हो गया है ठीक है अंतिम रूप से विभाजन हुआ है तब हम यह बोलते हैं कि पहले तो उसका विभव क्या था प्रेम रूप से उसका भविष्य और हमें उसकी विभव में हमने क्रमशः धीरे-धीरे विधि करी है तब हम ऐसा बोल सकते हैं कि संपूर्ण आवेश के लिए उस का औसत विभव बदमाशों ने भी बहुत था और फिर अंतिम में विभव कमान भी हो गया ऐसा क्यों मतलब दो मतलब इसका माल भी बटे दो के रूप में सपा में कह सकते हैं कि चालक को संपूर्ण वैभव किस तरह दिया जाता है उस पर जो कार्य किया जाता है वह औसत पर्व के रूप में कार्य किया जाता है तो 17 का मान कितना होगा

एक बटे दो होगा इस तरह हमेशा लाखो आवश्यक करना है तो चला को आवश्यक करने के लिए किया गया जो कार्य होगा वह क्या होगा कार्य को डब्लू सिलेक्ट किया जाता है सामान्य सूत्र के अनुसार कार्य को यदि हम देखे तो क्या होता है यहां पर होता है आवेश * यहां पर यदि हम उसके विभव की बात करें तो यहां पर आएगा और सब तो ठीक है तू तारे बराबर क्या होगा और सद्भाव और आवश्यक सामान अभी यहां पर कितना आवश्यक रूप से क्यों दिया हुआ है और उसकी बात की जाती है तो भी बता दो है वह कार्यक्रम हमें कितना मिलेगा कार्यक्रम 12 वीं के रूप में हमें प्राप्त होगा यही हम से प्रश्न में शुद्ध करने कहा गया था प्रश्न के दूसरे पति हमसे पूछा गया कि दर्शाइए कि आवश्यक चालकों के बीच आवंटन से हमेशा ऊर्जा का हाथ होता है तो पहले हम दो चालकों की यहां पर तुलना करेंगे अब देखिए से समझने के लिए हमने क्या किया है दो चालक यहां पर आवश्यक चालक हमने लिए हैं ए और बी के अनुसार यदि इन्हें तार के द्वारा छोड़ दिया जाता है पहले कर्म के दिन की धारिता के बाद

तो एक लिए उस की धारिता सी वन और दूसरे के लिए भी के लिए उसके सरिता सीटों से यहां पर प्रदर्शित होती है अभी देखिए दोनों चालकों की यदि हम तार के द्वारा जोड़ देते हैं तो यहां पर हमने तार के द्वारा ही से जोड़ रखा है अब क्या होगा कि यहां पर यदि हमने यह चालक है उसे मान लीजिए हमने क्यों बनाया था और इसे जब भी चालू को हमने q2 आदेश दिया था तब यहां उनके विभव की मांग क्रमशः क्या होते हैं यदि क्रमशः रूप से देखें तो फिर तू और विभिन्न के वैभव की मालिश के पुनर्गठन के हिसाब से अधिक विभाग से कम विभव की और आवेश का पुनर्गठन हो गया अब इसका स्थानांतरण होगा और इस तरह से तब तक स्थानांतरण होता है जब तक यहां पर विभिन्न के सामान्य हो जाते हैं तो सामान हो जाते हैं तो उसे हमको भैंस प्रभाव कहते हैं वह बहन इस विभाग को विश प्रदर्शित किया जाता है इस प्रकार 20 का मान क्या होगा वह अनुभव का मन यहां पर हमें प्राप्त होगा c1122 उसका मान शिव सिटी 110 के रूप में प्राप्त होगा यह हमें भैंस प्रभाव का बता रहा है इस तरह कुल आवेश का मान चुकी यदि हम इसे निकाल के रूप में देखें तो बराबर हो

अब यहां पर हम देखते हैं कि ऊर्जा का मान किस तरह से परिवर्तित हुआ है तो पहले सबसे पहले यदि हमने इसे तार से नहीं जुड़ा था तो जोड़ने से पूर्व ऊर्जा की बात आती है तो एक ऊर्जा थी वह कितनी थी ए पर ऊर्जा एक बटे दो कि रुकने और उसे हमने प्रस्तुत किया था c1v 1 वर्ग ग्रुप में अभी पर कुल ऊर्जा पहले कितने थी एक बटे दो के रूप में यह भी थी इसका मानसी टू बिट्टू के वर्ग के बराबर था इस तरह से हमने जोड़ा तो खून हम जोड़ देते हैं यहां पर तो यह युवक के रूप में प्रस्तुत होगा जिसका मन एक बटे दो c1v 1 स्क्वायर और यहां पर इसका माल एक बटे दो c2v टू स्पीक में होगा ठीक है यहां पर उसके मान हूं अब यहां पर हम क्या करते हैं वह लगा लेते हैं फिर कि हम जा रहे हैं कि इन्हें जोड़ दिया जाता है तो जोड़ने के बाद उनकी ऊर्जा होती है वह किस प्रकार से होगी तो जोड़ने की बात की है ना यह भी बात की सीरियल देख रहे हैं यह हमारे पास पहले जो था वह पहले किसने दी थी जोड़ने से पूर्व की स्थिति एक अमन इस तरह से क्या होगा एकामा उर्जा के रूप में 1 अनुपात 2 सीवन होगा और भी यहां पर उपेन

तू से भी विश कर कृपा लिखा हमने भी की बात करें तो बी के लिए उसका मन करता होगा एक अनुपात 2 सीटों और भी वर्ग के समान यहां पर होता है तो ही हम कुल ऊर्जा के बाद करें उसे हम कैसे लगे उसे हम देंगे यहां पर यूट्यूब से यूट्यूब का मन हमारे पास कितना होगा देखिए अभी से हमने उन्हें ऑस्ट्रेलिया एक बटे दो के रूप में और यहां पर विभव के मान को C1 C2 लिया है और इस प्रकार हमें इसकी मांग को लेकर के विभाग की मांग कुछ कर कर के रूप में हमने ले लिया तो हमें क्या मिला हमें इस तरह यूट्यूब का मान भी मिल गया है तो हमें युवाओं और युद्धों के माल मिल गए हैं तो हर समीकरण यदि हम इन्हें देना चाहे एक भी सकते हैं और संधू दे सकते हैं हमें ऊर्जा हास्य ऊर्जा की हानि देखी होगी तो बाद में और पहले ऊर्जा कितनी हानि होती है उसे किस प्रकार से लिखा जाएगा तो हम उनकी तुलना करेंगे समय एवं दोस्त अब इसका हमें देखना होगा समिति और दो कितना अंतर हम देखेंगे तो उसका मान होगा ह्यूमन रे यूट्यूब के बराबर तो यह हमारे पास कितना हमारे पास बनता है एक बटे दो के रूप में और यहां पर हम जीवन की मांग को रखें तो पहले हम सभी मांगों को रखते हैं वहां पर

c2b 2 के वर्ग का मानना और इसी तरह हम देखेंगे तो एक बटे दो हमें लिया यहां पर और यहां पर आता है C1 C2 के रूप में और जो विभव है उसका वर्ग यहां पर होगा कि हम क्या करते हैं हम यहां पर एक बटे दो कोबेन इस समय निकाल लिया तो एक बटे दो हमारे पास मिल गया है तब हम यहां पर क्या-क्या मानो को रखने वाले हैं तो यहां पर मन बनेगा c1v 1 स्क्वायर के रूप में और यह बनता है c2v 2 स्क्वायर के रूप में ठीक है अब यहां पर हम देखें तो हमें निकाल लिया हुआ है और यहां पर मन धन सीटों का मन है तभी तो कमानिया पर क्या होता है C1 b1 B2 B2 और नीचे हम उसके मन को देखें कि हमारे बसंता है उसी बंधन सीटों के रूप में और उसका क्या होगा उसका होगा यहां पर आकर हमसे कहते हैं अभी हां पर क्या लिया था हमने हमें वह ने किया था यहां पर हम क्या लें एक बटे दो हमें ले लिया हमें काम कर रहे हैं C1 C2 के मान को यहां से देखिए वह कट जाएगा एक हिस्सा कट जाएगा नीचे का यह हमें समझ लिया अब C1 C2

पता है तो हमने C1 C2 को क्या ले लिया सिवंथल सिटी को हमने अभी नीचे ले लिया वह निकाल कर के दोनों पक्षों से दोनों पक्षों से निकाला तो हमारे पास मानकर बचेंगे यहां पर बच्चे का C1 C2 के रूप में किसके साथ c131 करंसी 22 स्क्वायर के रूप में और यहां पर हम देखे हैं इसके मांगो तो यह हमारे पास है क्या बसता है इसका मन होगा यहां पर c1v बंधन सीटू सीटू का यहां पर होल स्क्वायर ग्रुप में बयान किया एक बटे दो C1 C2 को भैंस के लिए यहां पर और आगे को यदि हम हल करें यहां पर मान बनेंगे c11 दोनों का स्वर बनता है ठीक है और यहां पर इसी तरह बनता है C1 C2 मी टू स्क्वायर ग्रुप में और यहां पर फिर से मान बनेंगे C1 C2 विवेक स्क्वायर ग्रुप में और यहां पर बनते हैं उसी 2 स्क्वायर फीट ऊपर गर्व है कि हम हल करने के समान हमारे पास सेवन स्क्वायर 1 स्क्वायर के रूप में ठीक है और यहां पर हम मन बने तो उसी 2 स्क्वायर होता है यहां पर और मी टू बी स्क्वायर होगा फिर क्या मन बनेंगे यहां पर C1 C2 और यहां पर मन मन काहे

शराबी बन B2 हरिकेश में आएगा तू के रूप में आएगा अब यहां पर C1 C2 स्क्वायर 1 स्क्वायर फीट उस पर यह दोनों मान्या पकड़ जाएंगे हमारे पास बचा क्या लाई दे डेरे के लिए हमने उनको एक बटे दो के रूप में और यहां पर बनता है C1 C2 ठीक है और यहां पर हमले से 1 और सीटों को हमने क्या कर लिया यहां पर उठाने से लिया है अब हमारे पास यहां पर माना गया है विश कर बच्चा वीट उसके आगे को हम बोलेंगे यहां पर दो V1 V2 के रुपए अबे क्या लिखा जाएगा तो हम यहां पर लिखते हैं एक बटे दो के रूप में यह हमारे पास थी 1 और सीटों का मन बनता है और नीचे C1 प्लस सी 2 ग्रुप में और यहां पर मान बनेंगे V1 V2 के स्क्वायर ग्रुप में हो इसका रस का मान बनेगा तभी हमें क्या बता रहा है युवा में यूट्यूब के मान को बता रहा है ठीक है तो हमें इस तरह से यह मान प्राप्त हुए हैं अब देखिए आपको हम देखे हैं तो युवाओं का मन हमारे पास जाने वाला है जोकि V1 V2 कमान भिवंडी टो कमान यहां पर जो भी आएगा

उसका तो वापस कर हो जाने वाला है ठीक है दिमाग हमेशा करेंगे धनात्मक रहेंगे तो धनात्मक उसके मांस रहने से ही युवाओं का मान कितना आएगा वह भी खत्म होगा तो हमेशा इस प्रकार से दो आवश्यक चालकों के तार जोड़ा दूर जोड़ देते हैं तो वहां पर ऊर्जा की हानि होती है यही हमें सिद्ध करना था इस प्रश्न में धन्यवाद